Type Here to Get Search Results !

Trending News

ऑटो रिक्शा चालकों का फूटा गुस्सा, कैंट स्टेशन के सामने ठेकेदार के कर्मचारियों से नोकझोंक

लंबे समय से ठेकेदार के कर्मचारियों द्वारा आटो और ई रिक्‍शा चालकों से हो रही वसूली का प्रकरण रविवार को काफी बड़े विवाद की वजह बन गया। मनमाना पार्किंग वसूली को लेकर किचकिच शुरू होने के बाद विरोध और विवाद का दौर शुरू हो गया है। पूर्व में भी कीमतों को लेकर संचालकों और वाहन चालकों में किचकिच आम बात रही है। 

ऑटो व ई-रिक्शा चालकों ने रविवार को कैंट स्टेशन के सामने मनमाना पार्किंग वसूली का विरोध किया। इस बीच ठेकेदार के कर्मचारी और चालकों में नोक-झोंक भी हुई। मौके पर मौजूद बनारस ऑटो रिक्शा यूनियन के सदस्य ठेकेदार के कर्मचारियों को चेतावनी देकर वापस लौट गए। इस दौरान काफी देर तक परिसर में विवाद के हालात बने रहे और कर्मचारियों ने इस बाबत ठेकेदार को भी अवगत करा दिया है।   

बनारस ऑटो रिक्शा यूनियन के जिला अध्यक्ष ईश्वर सिंह ने कहा कि नगर निगम के नाम पर ऑटो और ई -रिक्शा चालकों का शोषण किया जा रहा है। कैंट स्टेशन से गुजरने वाली गाडियों से जबरन 10 से 15 रूपए वसूली की जा रही है। यहां सड़क किनारे वाहन खड़ा करने का कोई स्थान नहीं है, फिर भी पार्किंग शुल्क लिया जाता है। जबकि शुल्क लेने से पहले ऑटो व ई - रिक्शा चालकों को पूरी सुविधा उपलब्ध कराना प्रशासन का कर्तव्य है।

वाहन चालकों संग पूर्व में भी वसूली को लेकर विवाद के हालात बनते रहे हैं। माना जा रहा है कि संगठनों के बीच होने वाले विवाद और कीमतों को लेकर असमानता सहित कई प्रकरण अब विवाद की वजह आए दिन बनने लगे हैं। बताया कि शुल्क न देने पर ठेकेदार के कर्मचरी हाथा- पायी पर उतारू हो जाते हैं। ईश्वर सिंह ने चेतावनी भरे लहजे में कहा कि यदि मनमानी वसूली नहीं रुकी तो इसका पुरजोर विरोध किया जाएगा। विरोध में यूनियन के भगवान सिंह, जुबेर अहमद, पप्पू खान इत्यादि मौजूद रहे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad