Featured

Type Here to Get Search Results !

कोरोना कहर के बीच 15 दिनों तक यूपी की सीमा से बाहर नहीं जाएंगीं रोडवेज की बसें: योगी सरकार का फैसला

0

कोरोना कहर के बीच यूपी रोडवेज की बसें राज्य की सीमा से बाहर नहीं जाएंगी। योगी सरकार के फैसले पर परिवहन निगम के एमडी धीरज साहू ने यूपी परिवहन निगम की बसों का छह राज्यों के बीच संचालन बंद करने का निर्णय लिया है। ऐसे में अब 15 दिनों तक अंतरराज्यीय बसों के संचालन पर रोक लगा दी गई है।  रोडवेज प्रशासन ने अंतरराज्यीय बसों पर तत्काल प्रभाव से रोक लगाने का निर्देश अधिकारियों को दिए हैं। रोडवेज के एमडी ने शासन के फैसले के बाद सोमवार को सर्कुलर जारी करते हुए प्रदेश भर से संचालित दिल्ली, उत्तराखंड, बिहार, राजस्थान, हरियाणा, चंडीगढ़ राज्यों के बीच रोडवेज बसों के संचालन पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है।

यूपी के इन-इन जनपदों से दूसरें राज्यों में जाती थीं बसें
लखनऊ, गाजियाबाद, वाराणसी, गोरखपुर, सहारनपुर, बरेली, आगरा, मुरादाबाद, झांसी, मेरठ, मथुरा व कौशांबी बस अड्डे से छह राज्यों के बीच रोजाना दो हजार बसें आवागमन करती हैं। इनमें वोल्वो, शताब्दी, एसी स्लीपर, पिंक बस व एसी जनरथ बसें शामिल रहीं। इन बसों को आगामी 15 दिनों के लिए संचालन रोक दिया गया है। 

लखनऊ से चार राज्यों के बीच चलती हैं बसें

  • बिहार के पटना और गया के बीच दो बसें
  • राजस्थान के कोटा के बीच दो बसें
  • उत्तराखंड के देहरादून और हरिद्वार के बीच चार बसें
  • दिल्ली के आन्नद विहार बस अड्डे से 24 बसें
  • एडवांस टिकट बुकिंग का रिफंड एक सप्ताह में 

यूपी राज्यों के बीच चलने वाली बसों में जिन यात्रियों ने एडवांस टिकटों की बुकिंग कराई है। उन यात्रियों को टिकट का रिफंड एक सप्ताह में उनके बैंक खाते में पहुंच जाएगा। इस संबंध में प्रधान प्रबंधक संचालन डीवी सिंह ने प्रदेश भर के क्षेत्रीय प्रबंधकों को दिशा निर्देश भेज दिया है। 

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad