Featured

Type Here to Get Search Results !

गाजीपुर में सड़कों पर यातायात लॉक, डाउन रहे दुकान के शटर

0

गाजीपुर में शुक्रवार की रात से साप्ताहिक लॉकडाउन के चलते आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सबकुछ बंद रहा। साप्ताहिक लॉकडाउन का शहर में मिला जुला असर दिखाा और देहात में बाजारों में लोग अधिक निकले। कई जगह दुकानदारों ने आधा शटर खोलकर दुकानदारी की तो वाहनों की संख्या भी सड़कों पर नजर आई। तमाम दावों के बावजूद पुलिस और प्रशासन गाइडलाइन का अनुपालन नहीं करा सका। हालांकि सुबह कुछ दुकानें खुली और निर्धारित सात बजे के बाद लोगों ने दुकानों और प्रतिष्ठानों के शटर गिरा दिए। पुलिस और नगर पालिका की गाड़ियों से पूरे दिन यह लोगों को जागरूक किया। साप्ताहिक लॉकडाउन के दौरान दवा, दूध, सब्जी समेत आवश्यक सेवाओं पर प्रतिबंध नहीं रहेंगे।

कोरोना से बेकाबू होते हालात को ध्यान में रखते हुए सरकार ने सप्ताहांत लॉकडाउन एक दिन और बढ़ा दिया है। अब प्रदेश में शुक्रवार शाम आठ बजे से मंगलवार सुबह सात बजे तक बंदी रहेगी। बता दें कि पहले जारी किए गए आदेश के मुताबिक शनिवार और रविवार लॉकडाउन लागू रहेगा। शुक्रवार की रात आठ बजते ही लॉकडाउन शुरू हो गया, जिसके बाद चौराहों पर पुलिस अधिकारी उतर गए। शुक्रवार से मंगलवार सुबह तक लॉकडाउन को लेकर शनिवार सुबह से सख्ती रही, साप्ताहिक बंदी में बाजार, प्रतिष्ठान सभी बंद रहे। कोरोना की चेन तोड़ने के लिए लोग लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराने का प्रयास रहा लेकिन वह मिला जुला रहा। 

शासन के आदेश के तहत कोरोना संक्रमित से प्रभावित जिलों में शुक्रवार की रात आठ बजे से मंगलवार की सुबह सात बजे तक लॉकडाउन लागू किया गया है। शासन के आदेश पर डीएम ने धारा-144 के तहत इसे लागू किया है। शुक्रवार की रात आठ बजते ही ही सभी बाजार, सड़कों पर सन्नाटा छा गया। अब मंगलवार की सुबह तक लॉकडाउन रहेगा। लॉकडाउन में केवल आवश्यक सेवाओं को छूट दी गई है। डीएम एमपी सिंह के अनुसार बिना मास्क पर 1000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा। साप्ताहिक लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जाएगा। पुलिस को सख्त निर्देश दिए गए हैं कि जो भी नियमों का उल्लंघन करे, कार्रवाई की जाए। सुबह से ही शहर से देहात तक सभी स्थानों पर कड़ी जांच की जांच की जाएगी। डीएम ने कहा कि आवश्यक सेवाओं को छोड़कर और किसी को अनुमति नहीं दी जाएगी।

लॉकडाउन को लेकर नहीं खुली कस्बा बाजार की दुकानों की शटर

जंगीपुर: कोरोना महामारी से बचाव के लिये सरकार की ओर से तीन दिन के लिये लॉकडाउन घोषित किये जाने के बाद बाजार व स्टेशन बाजार की सभी दुकानों के शटर नहीं खुले। इसके कारण रोजमर्रा की खरीदारी करने वाले गरीब तबके के लोगों के सामने समस्या खड़ी रही। सुबह से एक भी दुकानें नहीं खुली। इसे लेकर गरीब तबके के लोग बाजार पहुंचकर जरूरी सामग्री खरीदने के लिये इधर-उधर भटकने को मजबूर दिखे।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad