Type Here to Get Search Results !

Trending News

गाजीपुर में गरज और चमक के साथ रात में व सुबह में हुई हल्की बारिश

गाजीपुर में पिछले कुछ दिनों से दोपहर के समय तेज धूप निकलने से लोगों को गर्मी का अहसास होने लगा था। शनिवार देर शाम से मौसम ने अचानक करवट बदल ली। रात 1 बजे तेज गरज व चमक के साथ बूंदाबांदी होना शुरू हो गई। देर रात तक रुक-रुककर बूंदाबांदी होती रही। बूंदाबांदी होने की वजह से कुछ क्षेत्र की विद्युत लाइन में फाल्ट आ गया और कालोनियों की विद्युत आपूर्ति बाधित रही। रात को अधिकतम तापमान 22 डिग्री व न्यूनतम तापमान 13 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। हालांकि रविवार दोपहर खिली धूप होने से रविवार को मध्याह्न 12:00 बजे तक अधिकतम तापमान 25 डिग्री पर, तो वहीं न्यूनतम तापमान 16 डिग्री पर बना रहा।

शनिवार सुबह कोहरे ने बदलते मौसम की दस्तक दी, दोपहर बाद बादल छाए होने की वजह से मौसम का मिजाज बदला रहा। बादलों और सूर्यदेव का लुकाछुपी का खेल पूरे दिन चलता रहा। शाम को सर्द हवा के बाद देर रात बूंदाबांदी होती रही। बूंदाबांदी के साथ हवा ने एक बार फिर से लोगों को ठंड का अहसास करा दिया। मौसम के बदलते क्रम में शनिवार की रात व रविवार की सुबह लोगों ने हल्की बारिश का सामना किया। यह ज्यादा देर तक तो नहीं हुई, लेकिन सुबह सड़कों पर लोगों को कीचड़ का सामना करना पड़ा। 

बारिश से खेती पर ज्यादा प्रभाव नहीं पड़ा है। अगर तेज बारिश हुई होती, तो किसान वर्ग को ज्यादा नुकसान उठाना पड़ सकता था। गेहूं के लिए इसे लाभकारी बताया गया है। तापमान पर भी इसका ज्यादा असर नहीं पड़ा। हालांकि गाजीपुर के आसमान में बादलों की आवाजाही तीन दिन से बनी है। दो दिन पूर्व भी कुछ क्षेत्रों में हल्की बारिश भ्री हुई थी। वहीं इसके बाद आसमान में बादलों के आने-जाने का क्रम बना रहा। शनिवार की देर शाम से तेज हवा के बीच बादल पूरी तरह से आसमान में छा गया था। इसके बाद रात करीब डेढ़ बजे आकाशीय बिजली की चमक, बादलों की गरज व तेज हवा के साथ हल्की बारिश होने लगी थी। 

कुछ देर बरसने के बाद यह बंद हो गयी। फिर रविवार की भोर पांच बजे यह शुरू हो गयी, लेकिन जल्द बंद हो गयी। इसके बाद सुबह आठ बजे थोड़ी देर के लिए फिर शुरू हो गयी थी। इससे सुबह कामकाज पर निकलने वाले लोग थोड़े परेशान रहे। रात से लेकर सुबह तक हुई रुक-रुककर बारिश से सड़कों पर जगह-जगह कीचड़ का नजारा बना रहा। इससे आवागमन में दिक्कत का सामना करना पड़ा। सुबह बारिश बंद होने के बाद आसमान भी साफ हो गया था और धूप भी खिली हुई। इससे पूर्वाह्न 10:00 बजे के बाद से सड़कों पर चहल-पहल देखी गयी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad