Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

चंदौली में ट्रांसपोर्टर ने धान खरीद में फर्जीवाड़े की खोली पोल, एक ट्रक माल ढुलाई को दिखाया 4 दफा

0

चहनियां ब्लाक में धान खरीद में फर्जीवाड़े की शिकायत पर शासन गंभीर हो गया है। परिवहन ठीकेदार ने जिस ट्रांसपोर्ट के ट्रक से अनाज की ढुलाई की रिपोर्ट भेजी, उसी ट्रांसपोर्टर ने इसे फर्जी करार दिया। उन्होंने कहा ट्रक एक बार ही अनाज लेकर गया, तो इसे चार बार क्यों दिखाया गया। खाद्य व विपणन विभाग फर्जीवाड़े को दबाने की कोशिश में लगा रहा, लेकिन खाद्य आयुक्त के निर्देश पर डीएम ने ब्लाक के सभी केंद्रों पर हुई खरीद की जांच बैठा दी है।

ट्रांसपोर्टर वीरेंद्र प्रताप सिंह ने आरोप लगाया कि उनके ट्रक संख्या यूपी - 62 टी 2078 से दो जनवरी 2021 को चहनियां स्थित खाद्य व विपणन विभाग के क्रय केंद्र से चार बार माल ढुलाई की रिपोर्ट परिवहन ठीकेदार रवींद्र कुमार सिंह ने दिखाई है। जबकि ट्रक एक बार माल लेकर मिल पर गया था। इसके बाद एफसीआइ के व्यास नगर स्थित गोदाम गया था। ठीकेदार ने तीन बार माल की ढुलाई का फर्जी आंकड़ा दिखाया है। गलत रिपोर्टिंग इतनी ज्यादा कि राइस मिलों में धान पहुंचा ही नहीं, इसे दरवाकर एफसीआइ के गोदाम में भी भेज दिया गया। इससे यह स्पष्ट होता है कि धान खरीद में व्यापक स्तर पर धांधली की गई। कहा ट्रक में जीपीएस लगा हुआ है। इसके माध्यम से उक्त तिथि पर ट्रक की लोकेशन जांची जा सकती है।

ट्रक मालिक ने जिलाधिकारी व जिला खाद्य विपणन अधिकारी के साथ खाद्य व रसद आयुक्त को पत्र भेजकर प्रकरण से अवगत कराया था। खाद्य व रसद आयुक्त ने इसको गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी को टीम गठित कर जांच का निर्देश दिया था। इस पर डीएम ने समिति गठित कर दी है। 2020-21 में धान खरीद की पूरी जांच कराई जाएगी। इसमें परिवहन ठीकेदार पर तो गाज गिरेगी ही, केंद्र प्रभारियों पर भी गाज गिर सकती है। इससे खलबली मची है। जिला खाद्य एवं विपणन अधिकारी अनूप श्रीवास्तव ने कहा जांच चल रही है। जिन्होंने गड़बड़ी की है उनके खिलाफ कार्रवाई होगी।


Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad