Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

बनारस में बारिश का 43 साल का रिकार्ड टूटा, 404 मिलीमीटर दर्ज की गई बारिश

0

बनारस में गुरुवार को चौबीस घंटे में इतिहास की सबसे अधिक बारिश दर्ज की गई। कल पूरे दिन में 404 मिलीमीटर बारिश हुई, जबकि इससे पहले 1978 में रिकार्ड 245 एमएम का था। वहीं आज सुबह तक के आंकड़े जोड़कर 590 मिलीमीटर बारिश हुई है। वहीं गुरुवार सुबह से दोपहर तक में ही तेज गर्जना के साथ हुई मूसलाधार बारिश ने बीते दस वर्षाें का रिकार्ड तोड़ दिया था। बारिश का ऐसा क्रम चला कि देखते ही देखते पूरा शहर पानी पानी हो गया और बारिश के रिकार्ड दशक दर दशक टूटते चले गए। अगर दो दिनों का आंकड़ा देखें तो यह अब तक का रिकार्ड है। हालांकि, चौबीस घंटों के बारिश के लिहाज से यह चार दशक में पहला बड़ा आंकड़ा बारिश का है। 

आज रात से सुबह तक बनारस में 186 मिलीमीटर बारिश हुई। जबकि बादलों का साया अभी तक बनारस को घेरे है। एक ओर जहां इस लुभावने मौसम ने लोगों के मन को सुहाना कर रहा है तो वहीं दूसरी ओर पूरी काशी जल प्लवित हो चुकी है। दक्षिणी पश्चिमी मानसून की तीव्रता धीरे-धीरे बढ़ रही है। एक ओर जहां अधिकतम तापमान सामान्य से 12 डिग्री कम 27 डिग्री तो वहीं न्यूनतम तापमान भी सामान्य से तीन डिग्री कम 24 डिग्री सेल्सियस पर दर्ज किया गया। इसके अतिरिक्त बनारस में आर्द्रता 98 और हवाओं की गति अधिकतम 24 किलोमीटर प्रति घंटे तक मांपी गई।

मौसम विभाग का अलर्ट 

मौसम विज्ञान विभाग ने इस पूरे सप्‍ताह बादलों की आवजाही और बारिश का संकेत दिया है। मौसम का रुख ऐसा ही बना रहा तो आने वाले दिनों में बारिश का क्रम और भी आगे तक रहेगा। इस पूरे मानसूनी सत्र में मौसम विज्ञानी मानसून के पूरी तरह सक्रिय रहने का अनुमान जाहिर किया है। इसकी वजह से बारिश का दौर आगे भी शहर को चुनौती देता नजर आएगा।

Purvanchal News in Hindi | News in Hindi | Purvanchal News | Latest Purvanchal News | Purvanchal Samachar | Samachar in Hindi | Online Hindi News | Purvanchal News |

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad