Featured

Type Here to Get Search Results !

दिल्ली, मुंबई और सूरत की राह नहीं हैं आसान, July माह के अंतिम Week तक ट्रेनें फुल

0

पूर्वांचल के प्रवासियों की राह में ट्रेनों में वेटिंग रूम रोड़े अटका रही है। उनके लिए कंफर्म टिकट मिलना किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं है। सुबह रेलवे आरक्षण केंद्रों पर तत्काल कोटे की लाइनों में भी लोगों को निराशा हाथ लग रही है। फिलहाल मुंबई, सूरत, दिल्ली, सिकंदराबाद समेत महानगरों के लिए यहां से चलने वाली किसी भी ट्रेन में जगह नहीं बची। जुलाई माह के अंतिम सप्ताह तक हर श्रेणी में लंबी प्रतीक्षा सूची है।

आंशिक बंदी में मिली छूट के बाद फिर से पूर्वांचल के प्रवासियों के काम पर लौटने का सिलसिला शुरू हो चुका है। रेलवे के अधिकृत स्रोत से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार कैंट स्टेशन बनकर चलने वाली महानगरी कोविड स्पेशल ट्रेन के शयनयान श्रेणी में जून के महीने में 250 तक वेटिंग है। वातानुकूलित श्रेणियों में न्यूनतम 75 वेटिंग दूसरे विकल्पों की ओर इशारा कर रही है। यही हाल यहां से बनकर चलने वाली कामायनी कोविड स्पेशल ट्रेन का भी है। यहां से गुजरने वाली गोरखपुर- दादर स्पेशल ट्रेन में भी फिलहाल कंफर्म बर्थ का टोटा बना हुआ है।

ट्रेनों से दबाव कम करेगी विशेष ट्रेन: ट्रेनों में यात्रियों की बढ़ी का दबाव कम करने के लिए रेलवे प्रशासन ने विभिन्न रूटो पर विशेष ट्रेन चलाने का निर्णय लिया है। इनमे शामिल वाराणसी -एलटीटी स्पेशल दो फेरे लगाएगी। गाड़ी संख्या - 04240 ट्रेन का संचालन 11 और 13 जून को किया जाएगा। यह ट्रेन शाम 7.15 बजे कैंट स्टेशन से प्रस्थान करेगी। इसी प्रकार गाड़ी संख्या -09035 मंडुआडीह और मुंबई सेंट्रल के बीच दो फेरे लगाएगी। 17 और 20 जून को मंडुआडीह स्टेशन से यह ट्रेन चलेगी।

मंडुआडीह - गोरखपुर और छपरा अनारक्षित ट्रेन का संचालन बहाल

वाराणसी: पूर्वांचल के यात्रियों की सुविधा के मद्देनजर मंडुआडीह - गोरखपुर अनारक्षित ट्रेन और वाराणसी सिटी -छपरा अनारक्षित ट्रेन का संचालन बहाल कर दिया गया है। पूर्वोत्तर रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी अशोक कुमार ने बताया कि गाड़ी संख्या -05104/05103 मंडुआडीह-गोरखपुर अनारक्षित ट्रेन 15 जून से चलाई जाएगी। इसी प्रकार गाड़ी संख्या -05111/05112 वाराणसी सिटी- छपरा अनारक्षित ट्रेन दस जून से अग्रिम आदेश तक चलाई जाएगी।


Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad