Featured

Type Here to Get Search Results !

पटकनियां गांव में युवक ने फांसी के फंदे से लटक कर दी जान

0

सुहवल थाना क्षेत्र के पटकनियां गांव में शुक्रवार की देर रात अपने कमरे में एक युवक ने फांसी के फंदे से लटक कर अपनी जान दे दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से कमरे के दरवाजे को तोड़ युवक के शव को नीचे उतारा और उसे कब्जे में लेकर पोस्मार्टम के लिए भेज दिया।

पुलिस के अनुसार पटकनियां गांव में शुक्रवार की 25 वर्षीय संदीप सिंह पुत्र स्व. सतेन्द्र सिंह की दादी गुलजारी देवी की तेरही थी। जहां गांव व परिजनों को भोजन कराने के बाद रात करीब बारह बजे संदीप अपने कमरें में सोने चला गया। जबकि उसकी पत्नी अन्य सदस्यों के साथ दूसरे कमरें में सोने चली गई। युवक ने अंदर दरवाजा बंद कर लिया। जब शनिवार की भोर हुई, तो काफी देर तक संदीप घर से बाहर नहीं निकला। परिजन बाहर से आवाज दिये, लेकिन अंदर से कोई हलचल नहीं होने पर किसी तरह खिड़की से अंदर देखा गया, तो सभी दंग रह गये। देखा कि संदीप साड़ी के फंदे पर लटका हुआ था।

युवक की शादी आठ माह पहले मरदह थाना क्षेत्र के नखतपुर गांव निवासी अभिलाशा देवी के साथ हुई थी। दोनों से आये दिन परिवार के सदस्यों से किसी बात को लेकर नोक-झोंक होती रहती थी। संदेह जताया जा रहा है कि इसी कलह के कारण संदीप ने फांसी लगा ली होगी। इस घटना से संदीप की पत्नी अभिलाशा देवी का रो-रोकर बुरा हाल है। इस घटना से संदीप के परिजन भी सदमे में हैं। मृतक अपने दो भाईयों में सबसे बडा था। जबकि, छोटा भाई कुलदीप है, जो अभी कक्षा ग्यारह में पढता है। संदीप चुनाव से पहले गांव आया था। वह दिल्ली में कहीं प्राइवेट काम करता था। परिवार का मुख्य कमासूत सदस्य था। 

इस बाबत प्रभारी निरीक्षक योगेन्द्र सिंह ने बताया कि छानबीन में यह बात सामने आयी है कि युवक ने परिवारिक कलह के कारण फांसी लगाई है। इसकी छानबीन की जा रही है। बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्मार्टम के लिए भेज दिया गया है। उन्होनें बताया कि मृतक के छोटे भाई कुलदीप द्वारा प्रथम सूचना दी गई है। फिलहाल अभी पत्नी की तरफ से लिखित सूचना नहीं मिली है। अगर मिलती है, तो निश्चित ही छानबीन के उपरांत विधिसम्मत कार्रवाई की जायेगी। पुलिस भी इस घटना के पीछे आपसी परिवारिक कलह को मान रही है।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad