Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

गहमर के स्थानीय गांव में आग से बस्ती की 3 रिहायशी झोपड़ियां जलीं

0

स्थानीय गांव के जयत्री ब्रह्म बाबा (चिनगी दीवान) बस्ती में अज्ञात कारण से लगी आग में तीन रिहायशी झोपड़ियां जलकर खाक हो गयीं। साथ ही एक गाय और एक भैंस भी बुरी तरह से जल गयी। झोपड़ी में रखा अनाज, भूसा, कपड़ा, बक्सा आदि सभी जलकर स्वाहा हो गये।

जानकारी के अनुसार स्थानीय गांव के जयत्री ब्रह्म बाबा (चिनगी दीवान) बस्ती में शाम के 3:00 बजे अज्ञात कारणों से आग लग गयी। बस्ती के सारे लोग खेतों में काम करने के लिए गए हुए थे। जैसे ही इसकी सूचना लोगों को मिली, लोग अपने स्तर से आग बुझाने लगे। आग इतना विकराल रूप ले लिया था कि इसपर काबू पाना मुश्किल हो गया था। फिर भी ग्रामीणों की मदद से किसी तरह इसपर काबू पाया गया। तब तक हरेंद्र चौधरी पुत्र राधेश्याम चौधरी, अक्षय चौधरी पुत्र नगीना चौधरी और जासन चौधरी पुत्र बद्री चौधरी की रिहायशी झोपड़ी जलकर स्वाहा हो गयी थी। 

साथ ही झोपड़ी में रखे अनाज, भूसा, कपड़ा, नगदी रुपये सहित कुछ जेवर जल गये। वहीं खूंटे में बधी हरेंद्र चौधरी की एक भैंस व एक गाय बुरी तरह से जल गयीं। सूचना पर गांव में अफरा-तफरी मच गयी। किसी ने इसकी सूचना स्थानीय पुलिस व अधिकारियों को दी। जहां मौके पर पहुंचे गहमर कोतवाल अनिल पांडेय, स्थानीय तहसीलदार, लेखपाल व कानूनगो अगलगी की घटना का मुआयना किया। इस घटना के बाद यह तीन परिवार खुले आसमान के नीचे आ गया है। अगर ग्रामीण साहस नहीं दिखते, तो पूरी बस्ती जल गयी होती।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad