Type Here to Get Search Results !

Bihar News: कोरोना वैक्सीन लेने के बाद घर में पीना होगा गर्म पानी

0

सर पहले इधर तापमान जांच कराइए। फिर हैंड सैनिटाइज कर आगे बढ़ना है। स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय व प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत शनिवार को कोविड-19 वैक्सीन के पूर्वाभ्यास का निरीक्षण करने शास्त्रीनगर स्थित शहरी स्वास्थ्य केंद्र पर पहुंचे तो वहां प्रवेश करने के पहले गार्ड ने प्रोटोकॉल के पालन की सलाह दी। मंत्री और प्रधान सचिव निर्धारित प्रोटोकॉल को पूरा करते हुए आगे बढ़े। तापमान जांच व सैनिटाइजेशन के बाद रजिस्ट्रेशन काउंटर पर पहुंचे और फिर वैक्सीनेशन रूम। यहां शहरी स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ. फरहा इम्तियाज का ड्राई वैक्सीनेशन किया जा रहा था। तभी मंत्री ने 'फोर-की मैसेज' की जानकारी ली। 

'फोर-की मैसेज' का रखना होगा ध्यान

वैक्सीनेशन कर रही एएनएम अनिता ने कहा कि देखिए वैक्सीन लेने के बाद आधा घंटा तक ऑब्जर्बेशन में रहना होगा। इस दौरान आपको किसी प्रकार की परेशानी होगी तो डॉक्टर को बताइएगा। घर जाने के बाद सावधानी बरतें। हमेशा मास्क पहने रहें, दो गज की दूरी मेंटेन कीजिए, गर्म पानी पीजिएगा। अगली बार वैक्सीन लेने के लिए मैसेज जाने पर आइकार्ड के साथ आाइएगा। इस दौरान दो डॉक्टर, डाटा एंट्री ऑपरेटर, एक जीएनएम, दो एएनएम, लैब तकनीशियन, फॉर्मासिस्ट, दो आशा वर्कर सहित 25 लोगों का ड्राई वेक्सीनेशन किया गया। राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार, सिविल सर्जन डॉ. विभा रानी भी मौजूद रहे।

जल्द दूर होगा कोरोना संकट

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि कोरोना संकट जल्द ही दूर होने वाला है। शनिवार कोरोना टीकाकरण का पूर्वाभ्यास ही नहीं, बल्कि ऐतिहासिक दिन है।

टीकाकरण के लिए ड्राई रन की हुई शुरुआत 

जिले में कोविड-19 के टीकाकरण की प्रक्रिया जल्द शुरू होने वाली है। इसके पूर्व पूरी तैयारियों की समीक्षा के लिए राज्य स्वास्थ्य समिति ने नई पहल शुरू की है। इसके तहत तैयारियों का जायजा लेने के लिए मॉक ड्रिल (ड्राई रन) की शुरुआत की गई। इस क्रम में जिले के तीन केंद्रों का चयन किया गया है। इसमें पटना के फुलवारी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, शास्त्रीनगर शहरी स्वास्थ्य केंद्र व दानापुर अनुमंडलीय अस्पताल शामिल हैं। राज्य स्वास्थ्य समिति कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने बताया ड्राई रन में किसी वैक्सीन का इस्तेमाल नहीं किया जा रहा है। बल्कि सिर्फ इसकी जांच की जा रही है कि वैक्सीनेशन के लिए बनाई गई योजना कितनी कारगर है। ड्राई रन में टीका लगाने के अलावा बाकी सभी इंतजाम वास्तविक टीकाकरण सत्र जैसा ही रहेगा। 

कार्यपालक निदेशक ने बताया वैक्सीन कोल्ड चेन प्वाइंट पर वैक्सीन के स्टाक की मात्रा एवं भंडारण फ्रिजरियल टाइम तापमान की ऑनलाइन निगरानी 'को-विन' (विन ओवर कोविड) प्रोग्राम के अंतर्गत मोबाइल ऐप एवं वेब पोर्टल से की जाएगी। यह डिवाइस नेट के माध्यम से वेब पोर्टल से जुड़ी रहेगी। यह पोर्टल पूरी तरह से कोरोना वैक्सीन के प्रबंध पर कार्य करेगा। को-विन पोर्टल से वैक्सीन और लॉजिस्टिक, सत्र स्थल, वैक्सीनेटर और लाभार्थी की सूचना मिलेगी। 

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad