Type Here to Get Search Results !

Recent Gedgets

Trending News

Raja Yoga in Astrology: जानिए Jyotish में 7 सबसे प्रबल राजयोग क्या है?

Raja Yoga in Astrology: हम सभी एक ऐसे जीवन की कामना करते हैं जो असाधारण हो और सफलता, प्रसिद्धि, धन, और ज्ञान से भरपूर हो, या दूसरे शब्दों में - "एक जीवन जो समाज में सामान्य से हटकर हो।" हमेशा सुना है कि सामान्य तौर से एक सामग्रिक और योग्यताओं से भरा जीवन जीने के लिए, आपको बहुत मेहनत करनी पड़ती है, और ईमानदारी से - इसमें कोई 2 रास्ते नहीं हैं। हालांकि, ऐसे लोग भी हैं जो किसी विशेष पूर्व जन्म के अच्छे कर्मों के परिणामस्वरूप कुछ विशेष आकाशीय आशीर्वाद धारण करते हैं जो उन्हें अपने जीवन के कुछ क्षेत्रों में शीघ्रता से उन्नत होने में मदद करते हैं।

raj-yoga

Kundali में Rajyog का क्या मतलब है?

ज्योतिष में 'राजयोग' कहे जाने वाले विशिष्ट ग्रहों के संयोजन होते हैं, जो यदि किसी के Kundali में मौजूद होते हैं, तो उसके जीवन में सफलता और समृद्धि को बहुत तेज़ी और सरलता से ला सकते हैं। एक व्यक्ति को एक ज्योतिषी से बात करनी चाहिए ताकि उसकी कुंडली में किसी Rajyog की मौजूदगी की जाँच की जा सके और उसे यह जानने में मदद हो सके कि वह अपने जीवन के कुंडली राजयोग के सर्वोत्तम लाभ उठा सकता है और अपने जीवन के महत्वपूर्ण निर्णयों को कैसे योजना बना सकता है।

राजयोग ज्योतिष लाभ

Kundali में राजयोग के साथ होने से व्यक्ति को कई लाभ होते हैं। Raj Yoga बुनियादी रूप से अत्यधिक शक्तिशाली और समृद्धिपूर्ण ब्रह्मांडीय ऊर्जाओं को आकर्षित करता है और व्यक्ति के भविष्य या जीवन की पथदर्शिता में एक महत्वपूर्ण धक्का प्रदान करता है। राजयोग से युक्त व्यक्तियां हमेशा अपने प्रतिस्पर्धियों के मुकाबले कई कदम आगे रहती हैं और उन्हें अपने जीवन में सफलता, नाम और प्रशंसा बहुत ही सरलता से मिलती है।

ऐसा लगता है कि लेडी लक हमेशा उन पर मुस्कुराती है और ऐसे लोगों के कुंडली में राजयोग होने से भाग्य उनके जीवन के महत्वपूर्ण प्रयासों में हमेशा साथी बनता है। राजयोग से युक्त व्यक्तियां आदिकाल से ही विशेषाधिकार और शक्ति के पदों पर उठती हैं। इन व्यक्तियों को नाम और प्रशंसा स्वभाव से ही मिलते हैं और उनकी व्यक्तित्व में एक महत्वपूर्ण कार्षिक जुड़ी होती है। जबकि राजयोग के बिना एक व्यक्ति कड़ी मेहनत के बावजूद मध्यम परिणाम प्राप्त करेगा, एक राजयोग से युक्त व्यक्ति को सफलता बहुत ही आसानी से और कुछ ही समय में हो जाएगी।

हालांकि, यह याद रखना आवश्यक है कि किसी के कुंडली में राजयोग होने वाले व्यक्ति को अपनी समय, प्रयास और ऊर्जा को उस विशेष क्षेत्र पर केंद्रित करना चाहिए जिसे उस विशेष राजयोग से संकेत किया जाता है। इस उद्देश्य के लिए, यह हमेशा सुनिश्चित किया जाता है कि आप अपने जीवन के महत्वपूर्ण पहलुओं में कदम रखने से पहले ज्योतिषी से बात करें, ताकि आपके प्रयास उसी दिशा/क्षेत्र में दिशा में हों जो आपके कुंडली में मौजूद राजयोग के साथ "संरेखित" है।

हम आपसे अनुरोध करते हैं कि आप सर्वश्रेष्ठ ज्योतिषी से संपर्क करें और एक अत्यंत अनुभवी ज्योतिषी से बात करें जो आपकी कुंडली को ध्यानपूर्वक विश्लेषण करेंगे और आपको अमूल्य मार्गदर्शन प्रदान करेंगे जो आपको आपके जीवन में स्वास्थ्य, धन, प्रचुरता, सफलता और अनपेक्षित समृद्धि के लिए सकारात्मक ब्रह्मांडीय ऊर्जा आकर्षित करने में मदद करेगा!

पराशारी राजयोग क्या है? | What is Parashari Raj Yoga

पराशारी राजयोग ज्योतिष शास्त्र में एक महत्वपूर्ण योग है जो जातक को धन, सम्मान और साम्राज्य की प्राप्ति में मदद करता है। इस योग में ग्रहों के एक विशेष संयोजन की उपस्थिति होती है जो व्यक्ति को समृद्धि और शक्ति प्रदान करता है। 

अधिकांश योग उत्तम विषय, भाग्यशाली ग्रहों, उच्च स्थिति और योगक्षेम योग के साथ जुड़े होते हैं। यह ग्रहों के संयोजन की स्थिति और उनके एकांत के आधार पर निर्धारित होता है। 

पराशारी राजयोग (Parashari Yoga) विशेष रूप से कुंडली में धन योग, राजा योग और महाराजा योग के रूप में प्रस्तुत किया जाता है। यह योग जातक को सफलता, प्रतिष्ठा, ऐश्वर्य, और शक्ति प्रदान करते हैं।

ज्योतिष में सबसे शक्तिशाली Raja Yoga

यह थोड़ा सा कपटपूर्ण लग सकता है, लेकिन सभी राज योग शक्तिशाली होते हैं। वास्तव में, उन्हें शक्तिशाली होने के लिए ही बनाया गया है, इसीलिए उन्हें पहले से ही राज योग कहा जाता है। तो, "कौन सा सबसे शक्तिशाली राज योग है?" के सवाल का वास्तविक उत्तर है - वह जिसे आप पूरी तरह से उपयोग करते हैं! आपकी कुंडली में एक राजयोग हो सकता है, लेकिन आप उस राजयोग के ऊर्जाओं के साथ अनुसरण करने वाले पहलुओं की पहल करने के बावजूद, आप उस राजयोग से लाभ नहीं उठा सकते हैं।

Jyotish में राजयोग के प्रकार

हालांकि कई राज योग हैं, Astrology में सात सबसे शक्तिशाली 'राज योग' निम्नलिखित हैं:

  1. गजकेसरी योग: गजकेसरी योग गुरु और चंद्रमा के बीच का एक प्रकार का Raj Yoga है। जब ये दो ग्रह एक होरोस्कोप में आपस में 'केंद्र' स्थित होते हैं, तो गजकेसरी योग का निर्माण होता है। इस राजयोग से Kundali में सफलता, धन, आनंद और शक्ति होती है।
  2. बुधआदित्य योग: अगर सूर्य और बुध ज्योतिष के किसी सुखकारी घर में संयुक्त रूप से सकारात्मक रूप से स्थित होते हैं, तो इससे बुध आदित्य योग (Budha Aditya Yoga) का निर्माण होता है। यह Rajyog किसी को उच्च स्तर की बुद्धि, नाम, प्रशंसा, शक्ति और स्थान में आशीर्वाद प्रदान करता है।
  3. विपरीत राज योग: इस प्रकार का Rajyog कुंडली में 'त्रिक स्थानों' या 6वें, 8वें, और 12वें घरों के स्वामियों द्वारा निर्मित होता है। जब त्रिक स्थानों के स्वामीज़ अपने ही घरों में स्थित होते हैं या उनके द्वारा स्वामित्व किए गए अन्य त्रिक स्थानों के घरों में स्थित होते हैं, तो एक विपरीत राज योग (Vipreet Raja Yoga) जातक की कुंडली में बनता है। इस राजयोग के परिणामस्वरूप, जातक को महान सफलता और प्रशंसा मिलती है, हालांकि कुछ मामलों में, सफलता और प्रशंसा किसी प्रारंभिक संघर्ष के बाद आती हैं।
  4. पाराशरी राज योग: यह राजयोग कुंडली में तब बनता है जब 'केन्द्र' और 'त्रिकोण' घर या उन घरों के स्वामियों का आपसी संबंध होता है। पाराशारी राजयोग (Parashari Raja Yoga) वाले व्यक्ति को सफलता, धन की प्राप्ति होती है और समाज में उच्च स्थान का आनंद मिलता है।
  1. अखण्ड राज योग: यह कुंडली में एक दुर्लभ Rajyog है और यह तब बनता है जब बृहस्पति लग्नेश की तुलना में बढ़िया स्थिति में होता है और व्यक्ति की कुंडली में 2वें, 5वें, या 9वें घर का स्वामी होता है। अखंड राजयोग (Akhand Raja Yoga) को कुंडली में माना जाता है जब 2वें, 9वें, या 11वें घर का स्वामी चंद्रमा के साथ केंद्र में स्थित है। यह राजयोग शक्ति, स्थान, अधिकार, प्रमुखता और शासन की क्षमता प्रदान करता है। इस राजयोग के साथ व्यक्ति सभी सांसारिक सुखों का आनंद लेता है और दुनिया के कई प्रमुख राजनेता की कुंडलियों में इसे देखा जाता है।
  2. धन राज योग: यह Kundali में एक ऐसा राजयोग है जो बनता है जब 1वें, 2वें, 5वें, 9वें और 11वें घर के स्वामी एक दूसरे से संबंधित होते हैं, जो मेल या दृष्टि के माध्यम से। धन राजयोग (Dhan Yoga) से युक्त व्यक्तियों को उनके जीवन में कभी भी धन की कमी नहीं होती। प्रचुर धन उनके जीवन की स्वाभाविक स्थिति बन जाता है।
  3. अधि राज योग: यह राजयोग कुंडली में बनता है जब बृहस्पति, शुक्र, और बुध नेत्रीय चंद्रमा से 6वें या 8वें घर में स्थित होते हैं। अधि योग (Adhi Yoga) को चंद्राधि राज योग भी कहा जाता है। यह राजयोग व्यक्ति पर महान ज्ञान, सफलता, और नेतृत्व की गुणवत्ता बरसाता है और उसे समाज में एक आदर्श उदाहरण बनाता है।

ज्योतिष में अत्यंत दुर्लभ योग

Jyotish में राजयोग व्यक्ति की कुंडली या जन्मकुंडली में विशेष ग्रह स्थानों के मामले होता है। इसलिए, जो ग्रह स्थान बनाने वाला एक राजयोग को कोई दुर्लभ चीज नहीं कहा जा सकता है, और न ही यह कुछ है जो व्यापक रूप से फैला हुआ है।

हालांकि, अखंड राजयोग एक ज्योतिष में यह वाकई बहुत ही दुर्लभ योग है जो आमतौर पर लोगों की कुंडलियों में धूप में पाया जाता है। इसके अलावा, आधि योग भी पाने में काफी दुर्लभ होता है। इसलिए, यह था ज्योतिष में 7 सबसे शक्तिशाली 'राजयोग' के बारे में।

अगर आप यह जानना चाहते हैं कि आपकी कुंडली में कौन-कौन से राजयोग हैं जिन्हें आप चतुरता से उपयोग करके अपने जीवन में सफलता, विकास, धन, और समृद्धि प्राप्त कर सकते हैं, तो एक ज्योतिषी से बातचीत करें जो आपको अपनी कुंडली / Kundli की अनुकूल ग्रह स्थितियों को सबसे अच्छे तरीके से उपयोग करने के लिए मार्गदर्शन करेगा।

पराशारी राजयोग के लाभ: Parashari Raj Yoga Benefits

1. धन की प्राप्ति: पराशारी राजयोग व्यक्ति को धन की प्राप्ति में मदद करता है। यह धन के स्रोतों को संतुलित करके आर्थिक स्थिरता प्रदान करता है।

2. सम्मान और प्रतिष्ठा: इस योग के प्रभाव से व्यक्ति को सम्मान और प्रतिष्ठा प्राप्त होती है, जो उन्हें समाज में उच्च स्थान पर ले जाती है।

3. साम्राज्य की प्राप्ति: पराशारी राजयोग व्यक्ति को साम्राज्यिक शक्ति और प्रभाव की प्राप्ति में सहायक होता है। यह उन्हें अधिकाधिक क्षेत्रों में आगे बढ़ने की क्षमता प्रदान करता है।

4. स्थिरता और सफलता: यह योग व्यक्ति को जीवन में स्थिरता और सफलता की प्राप्ति में सहायक होता है, जिससे वह अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने में समर्थ होता है।

5. आत्मविश्वास और आत्मसंयम: पराशारी राजयोग व्यक्ति को आत्मविश्वास और आत्मसंयम की प्राप्ति में मदद करता है, जो उन्हें जीवन के हर क्षेत्र में सफल बनाता है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad

Ad Space

uiuxdeveloepr