Featured

Type Here to Get Search Results !

वाराणसी में Weekend Lockdown, पूर्वांचल की सबसे बड़ी किराना मंडी एक हफ्ते के लिए बंद

0

कोरोना संक्रमण के फैलाव पर लगाम लगाने के लिए वाराणसी में अब हर शनिवार व रविवार दो दिन बंदी रहेगी। जिला प्रशासन ने यह निर्णय व्यापारियों व उद्यमियों की सहमति के बाद लिया है। हालांकि इसमें सरकारी दफ्तर, बैंक, एलआईसी व डाकघर खुले रहेंगे। 

डीएम कौशलराज शर्मा ने बताया कि यह आदेश 30 अप्रैल तक प्रभावी रहेगा। बंदी के दौरान आवश्यक सामानों वाली दुकानें सुबह सात से 10 बजे तक (कोरोना कर्फ्यू सुबह समाप्त होने के बाद) खोली जाएंगी। बताया कि रेल, बस व हवाई जहाज के यात्री टिकट दिखाकर आवागमन कर सकते हैं। हिदायत दी है कि यदि आदेश का उल्लंघन करते हुए कोई पाया गया तो उसके खिलाफ महामारी अधिनियम सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

विश्वेश्वरगंज स्थित किराना मंडी में 19 से 24 अप्रैल तक लॉकडाउन

कोरोना के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए वाराणसी किराना व्यापार समिति ने पूर्वांचल की सबसे बड़ी किराना मंडी विश्वेश्वरगंज को बंद करने का फैसला किया है। ऐलान किया है कि मंडी के व्यापारियों को कोरोना से बचाने के लिए 19  से 24 अप्रैल तक पूर्ण बंदी रहेगी यानी लॉकडाउन रहेगा।  समित के अध्यक्ष मनोज कुमार पांडेय की अध्यक्षता में व्यापारियों ने सर्वसम्मति से व्यापारी हितों को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा की दृष्टि से यह ऩिर्णय लिया गया है। तय किया गया है कि सभी व्यापारी स्वेच्छा से अपनी दुकानें बंद रखेंगे। वहीं समिति के महामंत्री अशोक कसेरा ने बताया कि इस निर्णय से कोविड-19 की चेन को तोडऩे में जरूर सफलता मिलेगी। कहा सबसे पहले जरूरी है व्यापारियों की सुरक्षा, क्योंकि जान है तो जहान है।

दो दिन पहड़िया बाजार रहेगा बंद
कोरोना के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए बनारस के पहड़िया व्यापार मंडल ने निर्णय लिया है कि वे शनिवार व रविवार को पूर्णतः बंदी करेंगे। ये दौरान केवल दूध व सब्जी की दुकान सुबह सात बजे से दस बजे तक खोली जाएंगी। व्यापार मंडल के महामंत्री अरविंद लाल ने बताया कि इस दौरान किसी प्रकार की लापरवाही नही होगी। कोरोना का प्रकोप दिन प्रतिदिन बढ़ रहा है। ऐसे में कुछ फैसले स्वतः लेने की जरूरत है। दो दिन की बंदी में कोई भी दुकानदार अपनी दुकान नही खोलेगा। मिठाई की दुकान जैसे कच्चे माल का काम करने वालो को भी सुझाव दिया है कि वे अपनी तैयारी पहले से ही कर ले। बन्दी के दौरान किसी प्रकार का बहाना नही बनाएंगे। ज्ञात हो कि पिछली बार लॉक डाउन के दौरान पहड़िया व्यापार मंडल ने अनूठी पहल करते हुए जिले में सबसे पहले इवन ओड की तर्ज़ पर दुकाने खोलने बन्द करने का फैसला लिया था जो कि बाद में पूरे जनपद में लागू हुआ था।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad