Featured

Type Here to Get Search Results !

गाजीपुर के गेहूं क्रय केंद्रों पर सन्नाटा, केंद्र प्रभारी दिनभर कर रहे इंतजार

0

किसानों के चुनाव में व्यस्त होने की वजह से गेहूं खरीद की रफ्तार धीमी है। जिले के 57 गेहूं क्रय केंद्रों पर अब तक 1 हजार 700 एमटी गेहूं की खरीद हो पाई है। मतदान के बाद गेहूं की खरीद व पंजीयन में तेजी आने की संभावना जताई जा रही है। अब तक 11 हजार 75 किसानों ने अपना पंजीयन कराया है, इसमें 6 हजार 949 किसानों का सत्यापन किया जा चुका है। दो हजार किसानों ने अपना गेहूं बेचने के लिए टोकन प्राप्त कर लिया है।

पंचायत चुनाव की सरगर्मी किसानाें पर इस कदर चढ़ी हुई है कि जिले के गेहूं खरीद केंद्रों पर सन्नाटा है। इन दिनों चुनावी माहाैल है। गांव-गांव किसान पंचायत चुनाव में व्यस्त हैं। कुछ गेहूं की कटाई करा रहे हैं। पिछले एक सप्ताह से गेहूं की कटाई में तेजी आई है, लेकिन सरकारी क्रय केंद्रों पर खरीद की रफ्तार धीमी है। पीसीयू के तीन केंद्रों पर पहली बार गेहूं खरीदा गया है। एक अप्रैल से सभी केंद्र गेहूं क्रय के लिए खोला गया था। सेंटर प्रभारी ने बताया कि किसानों से कहा जा रहा है कि वह अपना गेहूं सरकारी क्रय केंद्र पर तौलाएं। उधर, विभाग द्वारा दावा किया जा रहा है कि किसी को गेहूं खरीद केंद्रों पर दिक्कत नहीं होने दी जा रही है। इसलिए किसान क्रय केंद्रों पर जाएं और अपनी उपज बेचें।

किसान गांवों में प्रचार-प्रसार में लगा हुआ है

गेहूं खरीद को लेकर सभी केंद्रों पर अच्छे इंतजाम हैं। अब तक कुल 1700 क्विंटल गेहूं की खरीद हो चुकी है। मार्केटिंग के 18, पीसीएफ-9 मंडी समित-2 व पीसीयू के तीन केद्रों पर खरीद प्रारंभ हो गई है। गेहूं क्रय पर पंचायत चुनाव का असर है, किसान गांवों में प्रचार-प्रसार में लगा हुआ है। केंद्र पर किसी भी तरह की दिक्कत होने पर अधिकारियाें को फोन करके शिकायत भी कर सकते हैं।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad