Featured

Type Here to Get Search Results !

दिलदारनगर: दूसरे प्रदेशों से पहुंचे प्रवासी, स्टेशन पर यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई

0

कोरोना वायरस के संक्रमण के नियंत्रण के लिए दिल्ली में लाकडाउन को बढ़ाने के बाद सख्ती से इसे लागू कर दिया है। वहां काम करने वाले गाजीपुर समेत आसपास के प्रवासियों को पिछले साल की तरह लॉकडाउन लागू होने की आशंका है। इसलिए सभी को अपने घर वापस लौटने की जल्दी है जिसके चलते गाजीपुर में आने वाली ट्रेनों में लोग भरकर आ रहे हैं। सोमवार को दिल्ली से आने वाली ट्रेनों से बड़ी संख्या में प्रवासी गाजीपुर और दिलदारनगर पहुंचे। स्टेशन पर यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई।

गाजीपुर ही नहीं क्षेत्र के अलग-अलग कई हिस्सों में कोरोना के संक्रमण की रफ्तार बेकाबू हो चली है। राजधानी दिल्ली में ये महामारी कोहराम मचाए हुए है। संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए दिल्ली सरकार ने सोमवार की रात 10 बजे से छह दिनों के लिए लॉकडाउन बढ़ा दिया है। वहां रह रहे प्रवासी मजदूर व अन्य पेशेवरों में पिछले साल की तरह इस बार भी पूरे देश में महीनों लंबा लॉकडाउन लागू होने की आशंका में सड़क व रेल मार्ग के जरिये भारी संख्या में लोग दिल्ली से वापस लौट रहे हैं। सोमवार को दिल्ली से आने वाली ट्रेनों में जमकर भीड़ रही। गाजीपुर ही नहीं आसपास के जिलों के भारी संख्या में लोग दिल्ली से वापस लौटे, मऊ के यात्री औड़िहार में उतरे और दिलदारनगर के गाजीपुर में उतरे।

ट्रेनों में भरकर लौट रहे कई प्रदेशों से प्रवासी

दिलदारनगर: कोरोना वायरस का असर अब ट्रेनों पर भी देखने को मिल रहा हैं। प्रतिदिन अप डाउन में आने जाने वाले यात्रियों की संख्या कम हो रही है। जिससे टिकट बुकिंग से आरक्षण कराए यात्रियों द्वारा अपना टिकट लौटा रहे है। होली के बाद घर आये परदेशीयों के जाने के लिए मार्च तक कन्फर्म टिकट नहीं मिल रहा था। लेकिन करोना को लेकर जाने वाले यात्रियों में कमी होने के कारण इस समय आराम से बर्थ उपलब्ध हों जा रहा हैं और ट्रेनों में यात्रियों कि संख्या पहले से कम हों गई हैं। पैसेंजर ट्रेनों में भी पहले कि अपेक्षा भीड़ कम रही हैं। कोरोना वायरस का भय दिलों दिमाग में बैठ गया हैं तब से स्टेशन सहित हर जगह लोंगों कि भीड़ पहले की तुलना काफी कम हो गई है। दिलदारनगर स्टेशन के बुकिंग सुपरवाइजर बलिराम ने बताया कि करोना के भय से यात्री कन्फर्म टिकट वापस कर रहे हैं और जाने वालों की संख्या ना के बराबर है जबकि दिल्ली, मुंबई समेत बाहर से आने वालों की संख्या अधिक है।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad