Featured

Type Here to Get Search Results !

UP में दो और सरकारी मेडिकल कालेज में प्लाज्मा फेरिसिस सुविधा, 5 बीएसएल-2 लैब शुरू

0

यूपी में दो और सरकारी मेडिकल कालेजों में मंगलवार से प्लाज्मा फेरिसिस की सुविधा मिलने लगी है। साथ ही पांच और निजी मेडिकल कालेजों में भी बीएसएल-2 लैब शुरू हो गया है। मंगलवार को चिकित्सा शिक्षा मंत्री सुरेश खन्ना एवं चिकित्सा शिक्षा राज्यमंत्री संदीप सिंह ने लखनऊ के योजना भवन स्थित एनआईसी केन्द्र से दोनों मेडिकल कालेजों में प्लाजमा फेरिसिस सुविधा का ऑनलाइन उद्घाटन किया। साथ ही पांचों निजी मेडिकल कालेजों में खुले बीएसएल-दो लैब आम जनता को समर्पित किया।

मेरठ एवं झांसी मेडिकल कालेजों में प्लाजमा फेरिसिस सुविधा को शुरू करते हुए सुरेश खन्ना ने कहा कि प्रदेश में यह सुविधा अब तक मात्र कुछ गिने-चुने चिकित्सा संस्थानों में ही थी मसलन केजीएमयू, एसजीपीजीआई और नोएडा मेडिकल कालेज मे ही उपलब्ध थी।

राज्य सरकार के प्रयासों से प्रदेश में दो और मेडिकल कालेजों में यह सुविधा आज से उपलब्ध हो गई है। उन्होंने कहा कि डेंगू एवं कोविड में लाभदायक प्लाजमा फेरिसिस के द्वारा प्लेटलेट्स की आपूर्ति के के लिए प्रदेश के कुल 13 सरकारी संस्थान जिनमें केजीएमयू, जीआएमएस, नोएडा, एसएसपीजीएचटीआई नोएडा, एसजीपीजीआई, लखनऊ, आरएमएल इंस्टीट्यूट लखनऊ, यूपीयूएमएस सैफई,  राजकीय मेडिकल कालेज कानपुर, आगरा, प्रयागराज, गोरखपुर, मेरठ, झांसी तथा फिरोजाबाद पूरी तरह से काम कर रहा है। 

प्रदेश के पांच निजी मेडिकल कालेज मसलन टीएमआरसी, मुरादाबाद, एसआरएमएस, बरेली, शारदा हास्पिटल, नोएडा,  मेयो मेडिकल कालेज ऑफ मेडिकल साइंसेज मुजफ्फरनगर में भी यह सुविधा उपलब्ध है। उन्होंने कहा कि आज जिन पांच निजी मेडिकल में बीएसएल-2 लैब की स्थापना की गई है वह राममूर्ति स्मारक इंस्टीट्यूट आफ मेडिकल साइंसेज, बरेली, रुहेलखण्ड मेडिकल कालेज, बरेली, राजश्री मेडिकल रिसर्च इंस्टीट्यूट बरेली, वरुन अर्जुन मेडिकल कालेज शाहजहांपुर और कृष्ण मोहन मेडिकल कालेज मथुरा के नाम शामिल है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 28 निजी मेडिकल कालेजों में से 24  निजी मेडिकल कालेजों में आरटीपीसीआर जांच की सुविधा मिल रही है।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad