एक सप्ताह में शुरू होगी शिक्षकों के पद सृजन की प्रक्रिया - Dildarnagar News | Ghazipur News✔ ग़ाज़ीपुर न्यूज़ | लेटेस्ट न्यूज़ इन हिंदी ✔

Breaking News

Thursday, 30 April 2020

एक सप्ताह में शुरू होगी शिक्षकों के पद सृजन की प्रक्रिया



बीएनएमयू के केंद्रीय पुस्तकालय में विवि के सभी पदाधिकारियों की एक बैठक बुधवार को कुलपति डाॅ. अवध किशोर राय की अध्यक्षता में हुई। इसमें निर्णय लिया गया कि लाॅकडाउन में भी विश्वविद्यालय का कोई कार्य बाधित नहीं हो।
सभी पदाधिकारी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अपने-अपने कार्यों का संपादन करें। कोई भी पदाधिकारी, शिक्षक या कर्मचारी बिना पूर्वानुमति के मुख्यालय नहीं छोड़ें। विश्वविद्यालय में ऑनलाइन कक्षाएं जारी हैं। ऑनलाइन कक्षाओं से संबंधित सामग्री विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर भी अपलोड की जा रही है। इस प्रक्रिया को भी गति दिया जाए। सभी शिक्षक विश्वविद्यालय के निर्देशानुसार ऑनलाइन स्टडी मेटेरियल तैयार करें। लाॅकडाउन के दौरान राष्ट्रीय सेवा योजना द्वारा किए गए कार्यों का विवरण राजभवन एवं राज्य सरकार को भेजा जाएगा। परीक्षा विभाग एवं खेल विभाग को निदेशित किया गया कि लाॅकडाउन के दौरान अपने लाॅग बुक एवं कैश बुक को अद्यतन करें।
नैक मूल्यांकन के कार्यों को दी जाएगी गति
बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि फरवरी माह में संपन्न सीनेट की बैठक में लिए गए सभी निर्णयों का अनुपालन सुनिश्चित किया जाए। महाविद्यालय के निरीक्षकों को यह निर्देश दिया गया कि एक सप्ताह के अंदर संबद्ध महाविद्यालयों में पद-सृजन की प्रक्रिया शुरू करें। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि विश्वविद्यालय में नैक मूल्यांकन के कार्यों को भी गति दी जाएगी। विभिन्न महाविद्यालयों में नैक मूल्यांकन के प्रयास संतोषजनक नहीं हैं। जिन महाविद्यालयों ने नैक मूल्यांकन के लिए अग्रिम राशि ली है, उसका उपयोगिता प्रणाम पत्र मांगा गया है। बैठक में प्रति कुलपति डॉ. फारूक अली, वित्त परामर्शी सुरेशचंद्र दास, डीएसडब्ल्यू डाॅ. अशोक कुमार यादव, कुलानुशासक डाॅ. विश्वनाथ विवेका, सीसीडीसी डाॅ. इम्तियाज अंजूम, कुलसचिव डाॅ. कपिलदेव प्रसाद, वित्त पदाधिकारी सूरजदेव प्रसाद, परीक्षा नियंत्रक डाॅ. नवीन कुमार, महाविद्यालय निरीक्षक (कला एवं वाणिज्य) डाॅ. ललन प्रसाद अद्री, महाविद्यालय निरीक्षक (विज्ञान) डाॅ. उदयकृष्ण, एकेडमिक निदेशक डाॅ. एमआई रहमान सहित अन्य भी उपस्थित थे।

No comments:

Post a comment