Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

गाजीपुर: शनि सिंह और ढोलक सिंह समेत चार के खिलाफ NSA की कार्रवाई, अपराधियों में खलबली

0

सैदपुर देवचंदपुर स्थित पेट्रोल पंप पर 14 अक्टूबर 2020 को हुई हत्या व डकैती के मामले में जेल में निरुद्ध चार शातिर अपराधियों के खिलाफ डीएम की संस्तुति पर बुधवार को पुलिस ने राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (एनएसए) की कार्रवाई की। वाराणसी व गाजीपुर जेल में बंद चारों आरोपितों को पुलिस ने नोटिस तामिल करा दिया है। पुलिस के इस बड़ी कार्रवाई से जनपद के अपराधियों में खलबली मची हुई है।

देवचंदपुर गांव स्थित पेट्रोल पंप के संचालक अजय पांडेय के मित्र त्रिभवुन नारायण सिंह 14 अक्टूबर 2020 की रात में पेट्रोल पंप गए थे। रात में हिस्ट्रीशीटर कर्मवीर उर्फ शनि सिंह अपने कुछ साथियों के साथ पहुंचा और गाड़ियों में पेट्रोल व डीजल भरवाया। उसी समय त्रिभुवन अपनी लाइसेंसी बंदूक लेकर बाहर आए तो शनि ने अपने साथियों के साथ ताबड़तोड़ फायरिग शुरू कर दी। गोली लगने से त्रिभुवन नारायण सिंह की मौत हो गई थी। बदमाश तीन लाइसेंसी असलहा भी लूट लिए थे। 

इस मामले में शनि समेत कई लोगों के खिलाफ स्थानीय कोतवाली में मुकदमा कायम किया गया था। पुलिस ने घटना में शामिल लगभग सभी आरोपितों को पकड़कर जेल भेज दिया। आरोपितों के वाहन के कुर्क करने की कार्रवाई पुलिस ने कुछ माह पहले की थी। घटना इतनी जघन्य थी कि पुलिस ने बड़ी कार्रवाई का मूड बनाया ताकि घटना की पुनरावृत्ति न हो। घटना में शामिल हिस्ट्रीशीटर देवचंदपुर गांव निवासी कर्मवीर उर्फ शनि सिंह, आनंद उर्फ ढोलक सिंह, सदर कोतवाली के जमालपुर गांव निवासी उदल उर्फ रुदल बिद उर्फ विकास बिद इस समय गाजीपुर जेल में बंद हैं, जबकि करंडा थाना क्षेत्र के गोशंदपुर गांव निवासी सुंदरम सिंह उर्फ धनजी सिंह वाराणसी जेल में बंद है। कोतवाल राजीव सिंह ने चारों शातिर अपराधियों की क्राइम हिस्ट्री तैयार किया। 

कोतवाल, सीओ बीएस वीर कुमार व एसपी सिटी गोपीनाथ सोनी द्वारा भेजी गई संयुक्त आख्या के आधार पर पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश सिंह ने संस्तुति प्रदान की। इसके बाद डीएम मंगला प्रसाद सिंह ने अवलोकन करने के बाद एनएसए के कार्रवाई की संस्तुति प्रदान की। कोतवाल राजीव सिंह ने बताया कि चारों शातिर अपराधी हैं। सभी के खिलाफ विभिन्न थानों में कई मुकदमे दर्ज हैं। शनि के खिलाफ पूर्व विधायक बीजू पटनायक की हत्या समेत कुल आठ मुकदमे दर्ज हैं। धनजी सिंह के खिलाफ 11, रुदल बिद के खिलाफ छह व ढोलक सिंह के खिलाफ पांच मुकदमे दर्ज हैं। कोतवाल ने बताया कि एनएसए की कार्रवाई करते हुए सभी को नोटिस तामिल करा दिया गया है। 

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad