Type Here to Get Search Results !

Trending News

मंडी शुल्क लागू करने के विरोध में आक्रोश, बनारस के व्यापारियों ने बताया अहितकर

प्रदेश में मंडी शुल्क पुनः लागू किए जाने पर व्यापारियों में जबरदस्त रोष फैलता जा रहा है। इसी क्रम में एक और जहां बनारस गल्ला मंडी विरोध स्वरूप बंद की गई। वही वाराणसी व्यापार मंडल के तत्वाधान में पहाड़िया स्थित मंडी समिति पर व्यापारियों ने एकजुट हो धरना देकर अपना रोष प्रदर्शित किया।

वाराणसी व्यापार मंडल के अध्यक्ष अजीत सिंह बग्गा ने बताया कि सरकार द्वारा मंडी शुल्क खत्म किए जाने के बाद फिर से लागू करना छोटे व्यापारियों के लिए बहुत ही अहितकर और अलोकतांत्रिक कदम है। इससे सरकार के राजस्व में वृद्धि नहीं अपितु मंडी समिति में भ्रष्टाचार को बढ़ावा मिल रहा है। व्यापारियों में पहले से ही हाहाकार मचा हुआ है और सरकार इस तरह से नए नए शुल्क लगाकर व्यापारियों की कमर तोड़ रही है, जिसका वाराणसी व्यापार मंडल पुरजोर विरोध करता है।

वाराणसी व्यापार मण्डल के झंडे तले में जुटे सैकड़ों व्यापारियों ने प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए प्रदेश सरकार से मांग की कि इस शुल्क को तुरंत वापस किया जाए । व्यापारी हितों की अनदेखी करने वाले प्रशासन पर कार्रवाई की जाए, तथा आगामी चुनाव को देखते हुए राजनीतिक दल अपने मेनिफेस्टो में व्यापारिक मुद्दों को शामिल करें।

प्रमुख वक्ताओं में संरक्षक जगदीश गुप्ता , महामंत्री कवींद्र जायसवाल, आईटी सेल अध्यक्ष संतोष सिंह, युवा अध्यक्ष संजय गुप्ता, संयुक्त महामंत्री मनीष गुप्ता, सत्य प्रकाश, शीतलाल आनंद, शाहीद कुरैशी, अरविंदलाल आदि ने प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार से मांग किया कि व्यापारियों के हित में इन अलोकतांत्रिक कानूनों को वापस किया जाए वरना किसानों की तरह व्यापारी भी दिल्ली कूच करने पर मजबूर हो जाएंगे। मण्डल द्वारा मंडी समिति सचिव को मुख्यमंत्री के नाम प्रेषित ज्ञापन सौंपा गया। धरने में अध्यक्ष अजीत सिंह बग्गा, मनीष गुप्ता, नूर हसन, दीप्तिमान देव गुप्ता, प्रिंस गुप्ता, धर्मेंद्र सिंह, विकास गुप्ता, जितेन चौधरी, सोनम द्विवेदी, गुड़िया केसरी, अरविंद लाल,जाकिर सहित सैकड़ों व्यापारी उपस्थित थे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad