Type Here to Get Search Results !

Trending News

गाजीपुर जिले में सड़क की पटरियों पर सज रही दुकानें, आवागमन हुआ दुश्वार

गाजीपुर जिले के प्रमुख बाजारों की सड़कें सकरी होती जा रही हैं, जिसका कारण ये है नगर पालिका अधिकारियों की उदासीनता और पटरियों पर ही सज रही दुकानें। अतिक्रमण से वाहनों का आवागमन तो दूर पैदल चलना भी मुश्किल हो गया है। बावजूद गाजीपुर नगर पालिका प्रशासन की ओर से सड़कों के दोनों तरफ पटरियों पर हुए अतिक्रमण को हटवाने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है। सबसे अधिक परेशानी तब होती है जब त्योहारों या फिर शादी विवाह के सीजन शुरू होने पर करना पड़ता है। आए दिन जाम से लोगों को जूझना पड़ रहा है जिससे काफ़ी समय बर्बाद होता है और तकलीफ़ अलग से।

गाजीपुर शहर के मिश्रबाजार, लालदरवाजा, महुआबाग, एलआईसी रोड, नखास, लंका, रौजा, गोराबाजार सहित अन्य प्रमुख बाजारों के अलावा गाजीपुर सिटी रेलवे स्टेशन, विशेश्वरगंज, सकलेनाबाद में सड़क की पटरियों पर दोनों तरफ दुकानदारों का अतिक्रमण है। सुबह होते ही दुकानदारों द्वारा सामान निकालकर पटरियों पर सजा दिया जाता है। देर शाम तक यही स्थिति रहती है। ऐसे में दुकानों पर आने वाले ग्राहक अपने वाहन सड़कों पर ही खड़ा कर देते हैं, जिससे मार्ग सकरा हो जाता है और जाम लगा जाता है। 

राहगीरों के आवागमन में हो रही दिक्कत और पटरियों पर हुए अतिक्रमण की जानकारी होने के बावजूद स्थिति जस की तस बनी है। कार्रवाई के नाम पर सिर्फ चेतावनी ही दी जाती है। एक से दो दिन बीतने के बाद फिर दुकानदारों द्वारा पटरियों पर सामान सजाकर अतिक्रमण कर लिया जाता है। ऐसे में जाम की समस्या कम होने की बजाए दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है।

इन पटरियों को अतिक्रमण मुक्त कराने के लिए लंबे समय से अभियान नहीं चला, जिससे यह धीरे-धीरे नासूर बनता जा रहा है। कुछ दिन पूर्व मिश्रबाजार में सड़कों पर लग रही सब्जी की दुकानों को हटवाकर गाजीपुर नगर पालिका प्रशासन ने अपनी पीठ तो थपथपा ली, लेकिन सड़क की पटरियों पर सज रही दुकानों पर ध्यान नहीं दिया। आरोप है कि अधिकारियों की उदासीनता के चलते समस्या से रोजाना रूबरू होना पड़ रहा है।

जल्द ही अभियान चलाकर पटरियों पर हो रहे अतिक्रमण को हटाने का कार्य किया जाएगा। जाम से लोगों को परेशान नहीं होने दिया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad