Type Here to Get Search Results !

Trending News

गुरुवार की रात प्राचीन रामजानकी मंदिर से श्रीराम, लक्ष्मण और सीता की मूर्तियां चोरी

सैदपुर कस्बा पुलिस चौकी के पास स्थित प्राचीन रामजानकी मंदिर में गुरुवार की रात छत के रास्ते प्रवेश कर चोरों ने माता सीता की अष्टधातु और श्रीराम व लक्ष्मण की पीतल की मूर्तियां चोरी कर ली। देख-रेख करने वाली सुशीला देवी सुबह मंदिर में पहुंची तो चोरी का पता चला। मूर्ति चोरी होने की खबर फैलते ही लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। कोतवाल तेजबहादुर सिंह व कस्बा चौकी इंचार्ज देवेंद्र बहादुर सिंह ने पहुंचकर मौके का जायजा लिया और सीसी टीवी फुटेज खंगाला। रंगलाल जायसवाल की तहरीर पर पांच अज्ञात चोरों के खिलाफ चोरी का मुकदमा कायम कर पुलिस छानबीन में जुट गई है।

वार्ड छह में पक्का घाट पर श्रीराम लक्ष्मण जानकी का प्राचीन मंदिर स्थित है। श्रीकांत जायसवाल का परिवार मंदिर की देखरेख करता है। समय-समय पर प्रवचन आदि भी यहां कराया जाता है। रोज की भांति रात में आरती के बाद 10 बजे मंदिर बंदकर श्रीकांत जायसवाल व उनके परिवार के लोग बगल में स्थित अपने घर में सोने चले गए। देर रात में करीब पांच की संख्या में चोर असलहे से लैस होकर छत के रास्ते सीढ़ी से होकर मंदिर में घुसे।

चोरों ने मंदिर के सामने लोहे के गेट पर लगे एक ताला तोड़ दिया लेकिन दूसरा ताला तोड़ने में असफल रहे। तब चोरों ने वायरिग वाली गोल पाइप का सहारा लेकर छोटी-छोटी तीन मूर्तियों को गेट के नीचे से निकाला और लेकर निकल गए। सीसी टीवी फुटेज से पता चला कि चोर करीब 1.35 बजे मंदिर में प्रवेश किए और 2.40 बजे तक रहकर चोरी की घटना को अंजाम दिया। श्रीकांत जायसवाल ने बताया कि करीब 14 वर्ष पहले भगवान श्रीराम व लक्ष्मण की मूर्ति चोरी हुई थी लेकिन कुछ वर्षों बाद बरामद हो गई थी जिससे फिर से स्थापित किया गया था।

माता सीता की मूर्ति अष्टधातु निर्मित काफी प्राचीन है। करीब एक वर्ष पहले भी इसी मंदिर में रखे गए नौ इनवर्टर की बैट्रियों को चोरों ने गायब कर दिया था। हालांकि पुलिस की सक्रियता के चलते बैट्रियां चोरी के कुछ दिन बाद ही बरामद हो गई थी। कोतवाल तेजबहादुर सिंह ने बताया कि मामला संज्ञान में है। मुकदमा कायम कर छानबीन की जा रही है। 

सीसी टीवी फुटेज में असलहे से लैस दिखा नकाबपोश चोर : सीसी टीवी फुटेज खंगालने पर पता चला कि पांच की संख्या में चोर मंदिर में घुसे हैं। एक दो चोरों के हाथों में असलहा भी था। मंदिर में बार-बार चोरी से मोहल्लेवासी भयभीत हैं। उनका कहना है कि जब भगवान का दरबार ही सुरक्षित नहीं है तो हमारे घरों की सुरक्षा कि क्या गारंटी है। 

शीघ्र हो चोरी का पर्दाफाश : चोरी की घटना के बाद मौके पर बाजार के व्यापारियों की भीड़ एकत्र हो गई। उद्योग व्यापार समिति के अध्यक्ष विकास बरनवाल ने कहा कि मंदिर में चोरी की घटना का पुलिस शीघ्र पर्दाफाश करे अन्यथा हम चुप बैठने वाले नहीं है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad