Type Here to Get Search Results !

Trending News

नीट परीक्षा में सेंधमारी करने वाला बनारस का गिरोह पकड़ाया, पूछताछ में अन्‍य परीक्षाओं में धांधली उजागर

नीट परीक्षा सॉल्वर गैंग कमिश्‍नरेट पुलिस नीट परीक्षा सॉल्वर गैंग के खिलाफ कार्रवाई के क्रम में आखिरकार वाराणसी क्षेत्र का गैंग सरगना कन्हैय्या गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस कमिश्‍नर के अनुसार कन्हैय्या जनपद चंदौली के लघु सिंचाई विभाग में नियुक्त सरकारी कर्मचारी है। वहीं इस क्षेत्र में पिछले छह-सात साल से इस गिरोह का संचालन कर रहा था। वहीं इसका साथी सुंदरपुर स्थित साइबर कैफे संचालक क्रांति कौशल भी गिरफ्तार किया गया है। माना जा रहा है कि दस्‍तावेजों में हेरफेर का काम यहीं पर किया जाता था। 

पूछताछ में पता चला कि मुख्‍य सरगना पीके के संपर्क में रहे कन्हैय्या का नेटवर्क उत्‍तर प्रदेश के कई शहरों सहित देश की राजधानी दिल्ली तक फैला हुआ है। कन्हैय्या के पास से कई परीक्षाओं के कैंडिडेट्स के असली डाक्यूमेंट्स एवं एडमिट कार्ड मिले हैं। इस लिहाज से सिर्फ नीट ही नहीं माना जा रहा है कि अन्‍य परीक्षाओं में भी यह गिरोह सेंधमारी करता रहा है। इस बाबत थाना सारनाथ में नया केस पंजीकृत किया गया है। पुलिस कमिश्‍नर ने बताया कि कोर्ट में दोनों जालसाज पेश किए जाएंगे।

पूछताछ में पता चला कि मुख्‍य सरगना पीके के संपर्क में रहे कन्हैय्या का नेटवर्क उत्‍तर प्रदेश के कई शहरों सहित देश की राजधानी दिल्ली तक फैला हुआ है। कन्हैय्या के पास से कई परीक्षाओं के कैंडिडेट्स के असली डाक्यूमेंट्स एवं एडमिट कार्ड मिले हैं। इस लिहाज से सिर्फ नीट ही नहीं माना जा रहा है कि अन्‍य परीक्षाओं में भी यह गिरोह सेंधमारी करता रहा है। इस बाबत थाना सारनाथ में नया केस पंजीकृत किया गया है। पुलिस कमिश्‍नर ने बताया कि कोर्ट में दोनों जालसाज पेश किए जाएंगे।

गिरफ्तार अभियुक्त नीट परीक्षा से संबंधित सरगना नीलेश और पीके से करीब पांच साल से लगातार संपर्क में थे साथ ही साथ उत्तर प्रदेश की विभिन्न नौकरियों की परीक्षाओं में जैसे सहायक शिक्षक, यूपीटेट, यूपीएसआई, एएनएम चिकित्सा विभाग, एसएससी व अन्य कई परीक्षाओं के अभ्यर्थियों को सॉल्वरों के माध्यम से पास कराने के लिए दिल्ली लखनऊ एवं कानपुर के अपने अलग साथियों के साथ एक समानांतर गैंग चला रहा था। 

अभियुक्तों के कब्जे से पांच महिला अभ्यर्थियों के ओरिजिनल अंक पत्र, प्रमाण पत्र आदि एवं फर्जी आधार कार्ड तथा काफी संख्या में विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के अभ्यर्थियों के एडमिट कार्ड बरामद हुए। जिसके संबंध में सोमवार की सुबह थाना सारनाथ पर मुकदमा पंजीकृत कराया गया है। गिरफ्तार अभियुक्तों से विस्तृत पूछताछ जारी है। जिन्हें न्यायिक अभिरक्षा में भेजें जाने हेतु न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा। उम्‍मीद है कि अन्‍य परीक्षाओं की भी कड़‍ियों को जोड़कर वाराणसी में अपराध को पूरा बेनकाब किया जाएगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad