Type Here to Get Search Results !

Trending News

उत्तर प्रदेश में निरस्त हो रहे हैं राशन कार्ड, जानिए कैसे चेक करेंगे अपना नाम

लाखों का राशन बेचकर गरीबों के कार्ड से राशन लेने वाले इटावा के 372 राशन कार्ड धारकों के राशन कार्ड निरस्त कर दिए गए हैं। अब इन्हें सस्ती दरों पर राशन नहीं मिलेगा। ऐसा इसलिए किया गया है क्योंकि इन लोगों ने तीन लाख से अधिक का गेहूं सरकारी खरीद केंद्रों पर बेंचा था और सस्ती दर पर राशन भी ले रहे थे।

इस संबंध में सरकार की ओर से जांच कराई गई थी इस जांच के अनुसार जिले में लगभग 1600 किसानों ने गेहूं बेचा था। इनमें से 372 किसान ऐसे थे जिन्होंने तीन लाख से अधिक का गेहूं बेंचा और इनके पात्र ग्रहस्ती योजना के राशन कार्ड भी बने हुए हैं। जिन पर सस्ती दरों पर राशन मिलता है। कोरोना के समय में मुफ्त का अनाज भी मिला है। अब जांच के बाद इनके राशन कार्ड निरस्त कर दिए गए हैं। अब इन्हें नवंबर से सस्ती दरों पर राशन नहीं मिलेगा। 

जिला पूर्ति अधिकारी सीमा त्रिपाठी ने बताया है कि शासन के निर्देश पर 372 राशन कार्ड निरस्त किए गए हैं। इनसे इनके द्वारा लिए गए खाद्यान्न की वसूली का कोई आदेश अभी शासन से नहीं आया है । इस मामले में शासन के आदेश के अनुरूप कार्रवाई की जाएगी । जो 372 कार्ड धारकों के कार्ड निरस्त किए गए हैं उनमें सबसे ज्यादा 119 भरथना के हैं और सबसे कम 7 कार्ड धारक बढ़पुरा ब्लॉक के है। ऐसे में अगर आप भी अपना राशन कार्ड चेक करना चाहते हैं स्थानीय जिलाधिकारी कार्यालय और खाद्य आपूर्ति विभाग से संपर्क कर सकते हैं। 

कानपुर में अंगूठा लगवाने के बावजूद राशन न देने पर दुकान निरस्त

कानपुर में अंगूठा लगवाने के बावजूद लाभार्थियों को राशन न देने और शिकायतकर्ताओं के फर्जी शपथ देने में नर्वल तहसील के लाखनखेड़ा के कोटेदार की दुकान निरस्त की गई है। जिला पूर्ति अधिकारी अखिलेश श्रीवास्तव ने बताया कि सतानंद पाल की राशन की दुकान थी। शिकायत पर जांच कराई गई तो कई ग्रामीणों ने अंगूठा लगवाने के बावजूद राशन व चीनी न देने की शिकायत बताई। कुछ दिन बाद कोटेदार ने उन शिकायतकर्ताओं में से कुछ के शपथ-पत्र अपने पक्ष में दिए। जब उसकी क्रास चेकिंग कराई गई तो लोगों ने शपथ-पत्र न देने की बात बताई। कोटेदार की ओर से फर्जी शपथ-पत्र दिया गया। ऐसे में उसकी दुकान को निरस्त कर दिया गया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad