Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

गाजीपुर: टोंस नदी में बाढ़ की तस्वीर से जागे अधिकारी, जाने हालात

0

गाजीपुर और मऊ के सीमावर्ती इलाके में तमसा (टोंस ) नदी के लगातार रौद्र रूप के बाद गुरुवार से शांत दिखी लेकिन गुरुवार रात से शुरू बारिश ने चिंता बढ़ा दी। बुधवार को स्थिर हो गई थी लेकिन बारिश ने फिर घटे हुए जलस्तर को बढ़ा दिया। हालांकि इन दो दिनों में नदी के प्रवाह में कमी आई लेकिन इलाकों के बाशिंदों की दुश्वारियां कम नहीं हुई। हिन्दुस्तान ने हालात दिखाए तो अधिकारियों ने शुक्रवार को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया। एसडीएम ने राजस्व टीम के साथ हालात जाने और प्रशासन की ओर से मदद की बात भी कही।

गाजीपुर में टोंस नदी के तटवर्ती क्षेत्र के 20 से अधिक गांवों में लगभग 15-16 हजार से अधिक की आबादी पिछले एक सप्ताह से बाढ़ का दंश झेल रही है। हिन्दुस्तान ने हालातों की तस्वीर उजागर की तो अधिकारियों ने प्रभावित इलाकों का रुख किया। उपजिलाधिकारी भारत भार्गव ने शुक्रवार बाढ़ से प्रभावित क्षेत्रों का दौरा किया। प्रभावित परिवारों में पके हुए भोजन के पैकेट का वितरण कराया। एसडीएम ने पाया कि तमाम गांवों में लोगों का राशन भीग चुका है तो खाना पकाने के लिए साधन और संसाधन नहीं है। बाढ़ के बाद हालात ऐसे की परिवार के साथ मवेशी भी भूखे पेट रात गुजारने को मजबूर हो रहे हैं। सिऊरा, बहादुरगंज रामगढ़ सुरवत, पाली, रेता, मुहम्मदपुर कुसुम, सिधागर, खैरा का डेरा, सिधागर, बहरार, बेरुकही, रेंगा आदि गांवों में फसलें डूबी हैं। एसडीएम पीड़ितों से मिले और उन्हें राहत सामग्री मुहैया कराने का आश्वासन दिया।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad