Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

माधोपुर गांव में छात्रा की प्रेम प्रपंच में हत्या की आशंका, आधा दर्जन लड़के और लड़कियों से पूछताछ

0

वाराणसी जिले के रोहनिया थाना क्षेत्र के माधोपुर गांव में शुक्रवार की शाम खेत के किनारे झाड़ी में मिली अज्ञात युवती के शव की शिनाख्त बीए द्वितीय वर्ष की छात्रा और लंका निवासिनी के रूप में हुई। बैग से मिले आधार कार्ड के आधार पर पुलिस ने मृतका के परिवार को सूचना दिया। 

सूचना के देर रात परिवार के लोगों ने शव की शिनाख्त के बाद अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। पुलिस ने छात्रा के मोबाइल पर हुई बातचीत के आधार पर पांच छः लड़के और लड़कियों तथा कुछ रिश्तेदारों को भी पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। पुलिस की जांच के अनुसार प्रेम प्रपंच में छात्रा के हत्या की आशंका है। हत्या के पर्दाफाश के लिए क्राइम ब्रांच सहित पुलिस की तीन टीम लगी है। चौकी प्रभारी उमेश राय ने बताया कि जल्द ही हत्या का पर्दाफाश हो जाएगा।

वहीं दोपहर बाद छात्रा की हत्या के मामले में लापरवाही बरतने वाले रमना चौकी प्रभारी अजय प्रताप सिंह, उपनिरीक्षक राजेश कुमार गिरी, सिपाही प्रिंस कुमार गौतम, दीपक कुमार को एसीपी भेलूपुर की रिपोर्ट पर डीसीपी काशी अमित कुमार ने निलंबित कर दिया।

चौकी प्रभारी रमना के खिलाफ ग्रामीणों का आक्रोश : शनिवार की सुबह छात्रा के घर पर काफी संख्या में ग्रामीण जुट गए। ग्रामीणों का आरोप है कि अगर रमना चौकी प्रभारी सूचना के बाद सक्रिय हुए होते तो घटना नहीं होती। उन्होंने परिवार वालों को दो बार चौकी से यह कहकर भगा दिया कि पहले सब जगह खोजबीन कर लो उसके बाद तहरीर देना।

बैग से हुई छात्रा की शिनाख्त : 

हत्या के बाद घटनास्थल से मिले बैग से आधारकार्ड और कॉलेज के कॉपी किताब से छात्रा की पहचान हो पाई। इसी आधार पर पुलिस ने छात्रा से हुई बातचीत के आधार पर कुछ लोगों से जांच और पूछताछ कर रही है। पुलिस के अनुसार छात्रा की हत्या गुरुवार की दोपहर में ही कर दी गई थी। क्योंकि डेढ़ बजे वह कालेज से घर के लिए निकल चुकी थी जिसके बाद घर नहीं पहुंची।

ये थी घटना : माधोपुर गांव में खेत के किनारे झाड़ी में शव की सूचना सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस और ग्रामीणों ने शव देखने के बाद दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका जताई थी। युवती झाड़ी में अर्धनग्न अवस्था मे पड़ी थी। मुंह में कपड़ा ठूंसकर गला दबाकर मारने हत्या की आंशका हुई है। कुरहुआ गांव के रहने वाले सिंधु राय ने पुलिस को बताया कि एक लड़का बकरी चरा रहा था जिसको मना किया कि झाड़ी में मत जाओ। 

इसी दौरान नजर पड़ी कि किसी का पैर दिख रहा है। नजदीक से देखने पर अर्धनग्न युवती का शव दिखा। जिसके बाद पुलिस को कंट्रोल रूम पर सूचना दिया।मौके पर रोहनिया इंस्पेक्टर हरिनाथ भारती फोर्स के साथ पहुंचे। पुलिस ने फील्ड यूनिट को मौके पर बुलाया। हत्या की सूचना के बाद आसपास के गांव से सैकड़ो की संख्या में महिला और पुरुष मौके पर पहुंचे। हत्या की सूचना मिलते ही ग्रामीण पुलिस अधीक्षक अमित वर्मा सहित अन्य अधिकारियों ने घटनास्थल पर पर जांच के बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। शनिवार को पोस्टमार्टम के बाद हत्या का कारण स्पष्ट हो जाएगा।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad