Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

चौकाघाट के पास पुलिस मुुठभेड़ में 20 हजार का इनामी सिक्‍की पटेल घायल, ट्रामा सेंटर रेफर

0

पुलिस कमिश्‍नरेट की व्‍यवस्‍था लागू होने के बाद अब वाराणसी पुलिस अपराधियों पर लगाम लगाने के लिए मुहिम पर है। आए दिन गिरोहों के पर्दाफास से लेकर मुठभेड़ तक से पुलिस हिचक नहीं रही है। इस समय वाराणसी पुलिस की तैयारी इनामी बदमाशों को लेकर है। इसी कड़ी में बीस हजार के इनामी बदमाश सिक्‍की पटेल को पुलिस ने राडार पर लिया और लोकेशन मिलने के बाद बदमाश को चौकाघाट के पास घेर लिया। इस दौरान पुलिस ने ललकारा तो सिक्‍की ने भी उधर से पुलिस को चुनौती दी। इस दौरान पुलिस की गोली लगने से बदमाश बाइक से गिरकर घायल हो गया।

घायल बदमाश को काबू में करने के बाद उसे पुलिस ने अपने वाहन से मंडलीय अस्‍पताल भेजा। जहां पर उसकी हालत चिंताजनक होने की वजह से उसे प्राथमिक उपचार के बाद ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। दूसरी ओर मुठभेड़ की जानकारी होने के बाद पुलिस ने आरोपित के बारे में जानकारी हासिल करने के साथ ही वरिष्‍ठ अधिकारियों को भी इसके बारे में जानकारी दी। वहीं मुठभेड़ स्‍थल पर पुलिस टीम और अधिकारियों ने पहुंचकर जांच पड़ताल के साथ ही मुठभेड़ के बारे में संबंधित टीम से जानकारी भी हासिल की।

पुलिस के अनुसार रात आठ बजे के करीब पुलिस ने आरोपित की पहचान कर पीछा करना शुरू किया औश्र थोड़ी देर बाद चौकाघाट और सिटी स्टेशन के बीच पुलिस ने बदमाश को घेर लिया और चेतावनी के बीच गोली चलने से क्षेत्र में दहशत भी व्‍याप्‍त हो गई। पुलिस के अनुसार सिक्की पटेल 20 हजार का इनामी है। उसके पैर में पुलिस की गोली लगी है। पुलिस ने मंडलीय अस्पताल उसे जल्‍द ही पहुंचाया जहांं पर उसे ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया गया। बदमाश सिक्की पटेल (42) निवासी औरंगाबाद की कई मामलों में पुलिस को तलाश थी। डाक्‍टरों ने बताया कि बदमाश सिक्की पटेल के बाएं पैर में गोली लगी है, हालत थोड़ी गंभीर होने की वजह से उसे ट्रामा सेंटर रेफर किया गया है।

बोले पुलिस अधिकारी : एडीसीपी काशी जोन ने बताया कि घायल बदमाश के पास से .32 बोर की पिस्टल, पांच कारतूस और बाइक बरामद किया गया है। दरअसल, रात 8:30 बजे क्राइम ब्रांच और सिगरा पुलिस को मुखबिर के द्वारा सूचना मिली कि 20 हजार का इनामी बदमाश सिक्की पटेल अंधरापुल से होकर नक्खीघाट की ओर जा रहा है। सूचना के आधार पर पुलिस ने उसका पीछा शुरू किया तो वह गाड़ी की रफ्तार बढ़ाते हुए नक्खीघाट की ओर भागा। इस दौरान वायरलेस सेट पर बदमाश के भागने की सूचना प्रसारित होते ही नक्खीघाट तिराहे के पास वाहनों की चेकिंग कर रहे जैतपुरा इंस्पेक्टर शशि भूषण राय ने चौकाघाट के पास घेरेबंदी कर बदमाश को पकड़ने की कोशिश की, लेकिन वह पुलिस जीप पर फायरिंग करने लगा। इस दौरान पुलिस की जवाबी कार्रवाई में सिक्की पटेल को पाएं पैर में गोली लगी और वह लहूलुहान होकर वहीं गिर गया। जिसके बाद पुलिस ने उसे धर दबोचा।

सिक्की के खिलाफ मुकदमा : सिक्‍की पर हत्या सहित अलग-अलग मामलों में दर्ज है नौ मुकदमे दर्ज है। लक्सा के औरंगाबाद निवासी सिक्की पटेल उर्फ सचिन के खिलाफ पहला मुकदमा सन 2002 में चेतगंज थाने में धारा 323, 325 504, 506 के तहत दर्ज किया गया था। जिसके बाद से सिक्की पार्षद शिव सेठ की हत्या करने वाले संतोष शुक्ला की गैंग में शामिल हो गया। संतोष शुक्ला के जेल जाने के बाद सिक्की पटेल एसटीएफ के साथ मंडलीय अस्पताल में मुठभेड़ में मारे गए सनी सिंह गैंग से जुड़ गया। उसके खिलाफ लक्सा, कोतवाली और चेतगंज थाने में हत्या, हत्या का प्रयास, 25 आर्म्स एक्ट सहित मारपीट और धमकी देने के मामलों में 9 मुकदमे दर्ज हैं।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad