Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

कुंवरपुर के पास राष्ट्रीय राजमार्ग पर सड़क हादसों में युवती सहित दो की मौत, एक घायल

0

थाना क्षेत्र के कुंवरपुर के पास राष्ट्रीय राजमार्ग पर ट्रक से कुचल कर साइकिल सवार नीलम प्रजापति (19) व सहेड़ी हाइवे पर सोमवार की देर रात गाय से टकराकर अमित (33) की मौत हो गई। वहीं मंटू (22) गंभीर रूप से घायल हो गया। हादसे के बाद स्वजन में कोहराम मच गया। उनका रो-रोकर बुरा हाल रहा। पुलिस ने दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

नैसारा निवासी नीलम प्रजापति अपने पिता जुगुड़ी प्रजापति की देवा लेने बुधवार की सुबह देवकली मेडिकल स्टोर पर गई थी। दवा लेकर वापस आते समय कुंवरपुर स्थित धर्मकांटा से आगे वजन कराकर तेजी से निकल कर हाइवे पर आए ट्रक ने साइकिल सवार नीलम प्रजापति को पीछे से धक्का मार दिया। इससे नीलम सड़क पर गिर पड़ी और ट्रक उसे रौंदते हुए आगे बढ़ गया। इससे उसका शरीर बुरी तरह कुचल गया और घटना स्थल पर ही उसकी मौत हो गई। 

स्थानीय लोग शोर मचाते हुए ट्रक का पीछा किए, मगर चालक कुछ दूर आगे ट्रक को हाइवे पर छोड़कर भाग निकला। पर्स में रखे आधार कार्ड से उसकी पहचान हुई। मृतक की मां कौशल्या देवी शव को पकड़कर विलाप करने लगी। रज्जादी चौकी इंचार्ज सुरेंद्र नाथ सिंह ने ट्रक को थाने में खड़ा कराया। नीलम सावित्री महिला महाविद्यालय नंदगंज में बीए प्रथम वर्ष की छात्रा थी। दो बहनों व भाइयों में सबसे छोटी थी। थानाध्यक्ष सत्येंद्र कुमार राय ने बताया कि मृतक के पिता जुगुड़ी प्रजापति की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर जांच-पड़ताल की जा रही है।

वाराणसी से आ रहे थे वापस: नगर कोतवाली के रूहीपुर निवासी अमित व मंटू बाइक से वाराणसी घरेलू काम से गए थे। सोमवार की देर रात वापस आ रहे थे। सहेड़ी के पास अचानक बाइक के सामने गाय आ गई और उनका संतुलन बिगड़ गया। इससे वह गाय से टकरा गए और बाइक सवार दोनों युवक रोड पर गिर पड़े। अमित के सिर में गंभीर चोट आई। थानाध्यक्ष सत्येंद्र राय ने दोनों घायलों को सदर अस्पताल भेजवाया। जहां इलाज के दौरान अमित की मौत हो गई। मृतक का एक पुत्र शिवम है। मौत की खबर सुनकर माता आशा देवी व पत्नी संगीता का रो-रो कर बुरा हाल था। ---

बिना परमिट करते हैं माल ढुलाई

नंदगंज : यहां स्थित खाद्य एवं रसद गोदाम पर बिना परमिट व विना बीमा के ट्रक माल ढुलाई में लगे रहते हैं। जब माल लोड करके रोड पर निकलते हैं तो उनकी रफ्तार देख लोग सहम जाते हैं। लोगों में चर्चा है कि एआरटीओ की नजर से बचने के लिए ट्रक चालक गाड़ी तेज चलाते रहते हैं। क्षेत्र के लोगो की मांग है कि बिना फिटनेस के ट्रक माल ढुलाई न करें अन्यथा लोगो का रोड पर चलना मुश्किल हो जाएगा।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad