Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

कासिमाबाद: संदिग्ध हाल में विवाहिता का मिला शव, स्वजन फरार

0

कोतवाली क्षेत्र के ग्राम पंचायत राजापुरकला में गुरुवार की रात विवाहिता मनीषा की संदिग्ध हालात में मौत हो गई। मृतका की मां ने दहेज के लिए लड़की की हत्या करने का आरोप लगाते हुए पति, चचेरे श्वसुर, ननद और चचिया सास के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। ससुराल वाले घर से फरार हैं।

बरेसर थाना क्षेत्र के मुस्तफाबाद निवासी देवनाथ राजभर ने छह मई 2019 को कासिमाबाद कोतवाली क्षेत्र के ग्राम राजापुरकला निवासी गुल्लू के पुत्र अखिलेश से अपनी लड़की मनीषा की शादी की थी। अपने हिसाब से दान भी किया। आरोप लगाया कि दहेज में दो लाख रुपये व भैंस की मांग को लेकर आए दिन मनीषा को प्रताड़ित किया जाता था। आरोप लगाया कि अंत में उसे फांसी के फंदे से लटका कर मौत के घाट उतार दिया गया। घर वालों के मुताबिक उनकी मनीषा की हत्या गले में फंदा लगाकर की गई है। हालांकि लोगों के पहुंचने तक शव घर के बाहर रख दिया गया था। लड़की के मां मंजू देवी ने अपने दामाद अखिलेश राजभर, उसकी अजिया सांस सोनबरीसी, चचेरे ससुर श्रीराम व ननद इंदुमती पर दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। 

मनीषा तीन भाइयों व दो बहनो में सबसे बड़ी थी। उसकी एक डेढ़ साल बेटी भी है। मनीषा के पिता देवनाथ पूना में क्रेन चलाते हैं। मनीषा की मौत के बाद मां मीना देवी का रो-रो कर बुरा हाल था। गुरुवार की रात मां की मनीषा से हुई थी बात मनीषा की मां मंजू देवी ने बताया कि गुरुवार की रात आठ बजे उसकी मनीषा से बात हुई तो वह स्वजनों के लिए खाना बना रही थी। रात करीब 11 बजे उसके पति का फोन आया और मनीषा की मौत की सूचना दी। बताया कि जब हम लोग पहुंचे तो मनीषा का शव घर के बाहर रखा गया था। मनीषा के गर्दन, कनपटी व पीठ पर चोट के निशान थे। तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच की जा रही है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। इसके बाद ही बताया जा सकता है कि मनीषा मौत कैसे हुई है।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad