Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

UP: राष्‍ट्रगान के अपमान की शिकायत करने वाली महिला ही गिरफ्तार, पुलिस ने बताई ये वजह

0

यूपी के बांदा में राष्‍ट्रगान के अपमान की शिकायत करने वाली एक महिला समाजसेविका को ही गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। समाजसेविका की गिरफ्तारी के लिए पुलिस कोविड नियमों का हवाला दे रही है। बताया जा रहा है कि गिरफ्तारी से पहले महिला की पुलिस से जमकर नोंकझोक भी हुई। पुलिस का तर्क था कि कोविड नियमों के तहत इस समय कहीं भी धरना-प्रदर्शन की इजाजत नहीं है। समझाने के बावजूद महिला धरना-प्रदर्शन करने पर अमादा थीं इसीलिए उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया गया। उधर, जेल जाने से पहले महिला ने आरोप लगाया कि अपने ही देश में राष्‍ट्रगान का अपमान करने की शिकायत पर उन्‍हें सजा दी जा रही है। लगता है कि देश में, देश का अपमान करने वालों के खिलाफ बोलने की इजाजत नहीं है। 

मिली जानकारी के अनुसार बांदा में सोशल मीडिया पर 15 अगस्त को स्‍वतंत्रता दिवस पर नवाब टैंक में हुए एक कार्यक्रम का वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो में कथित तौर पर एक सांसद, चार विधायक,  कुछ नेता ओर सरकारी अफसर राष्ट्रगान को बीच में छोड़कर जाते दिखाई दे रहे थे। महिला समाजसेविका शालिनी पटेल ने इसी पर सवाल उठाते हुए शिकायत की थी। हालांकि इस बारे में नेताओं और अफसरों के अपने-अपने तर्क हैं। उनका कहना है कि कार्यक्रम में साउंड सर्विस वालों ने दोबारा राष्ट्रगान बजा दिया था। जबकि एक बार पहले ही वहां राष्‍ट्रगान हो चुका था जिसमें सभी सावधान की मुद्रा में खड़े होकर राष्ट्रगान गा चुके थे। वहीं इस मामले के शिकायतकर्ताओं का कहना है कि राष्‍ट्रगान तो राष्‍ट्रगान है। यदि यह गलती से बज गया था तो भी लोग कुछ सेकेंड के लिए फिर से खड़े रह सकते थे। 

पुलिस ने इस मामले में एक सोशल मीडिया यूजर के खिलाफ वीडियो वायरल करने के आरोप में आईटी एक्‍ट के तहत मुकदमा भी दर्ज किया है। अब एक और केस दर्ज करते हुए महिला समासेविका की धरनास्‍थल से गिरफ्तारी की गई है। इस मामले में समाजसेविका शालिनी पटेल का कहना है कि हमने राष्‍ट्रगान के अपमान की सूचना 16 अगस्‍त को दी थी। इस मामले में एफआईआर न दर्ज किए जाने पर छह महिलाएं धरना देने आईं तो पुलिस ने हमें गिरफ्तार कर लिया। 

क्‍या बोले जिम्‍मेदार

अशोक स्तम्भ तिराहे पर कुछ सामाजिक कार्यकर्ता बिना मास्क लगाए बिना इजाजत के धरना-प्रदर्शन कर रही थीं। उन्‍हें समझाया गया कि वहां से हट जाएं।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad