Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

गाजीपुर जिले में बिजली संकट: शहर के लिए 2 नए विद्युत केंद्र प्रस्तावित, बिजली संकट से मिलेगी निजात

0

गाजीपुर जिले में रिवैम्प विद्युत वितरण सुधार योजना के तहत जिले की बिजली व्यवस्था सुदृढ़ की जाएगी। आगे पांच साल तक बिजली 24 घंटे मिले इसके लिए केंद्र की यह योजना शुरू की गई है। जिले से 11 अगस्त तक रिपोर्ट तैयार कर दे दिए जाने हैं। नगर से दो बिजली उपकेंद्र भी प्रस्तावित किए गए हैं। इस संबंध में बैठक कर पूरी तैयारियों के बाबत चर्चा हो चुकी है। इसके तहत जहां जिस उपकरण ट्रांसफार्मर, जर्जर तार, उपकेंद्र की जरूरत जहां होगी वहां लगाया जाएगा।

पांच वर्षों में जिले में पूरे 24 घंटे बिजली देने के लिए शासन ने रिवैम्प योजना की शुरुआत की। व्यापक सुधार हेतु नवीनीकरण का भी काम होगा। गुणवत्तापूर्ण आपूर्ति के साथ परिचालकीय दक्षताओं को बढ़ाया जाएगा एवं ऊर्जा क्षेत्र में कार्य करने वाली विद्युत प्रणाली तंत्र का विकास किया जाना है, जिससे 24 घंटे की विद्युत आपूर्ति की उपलब्धता सुनिश्चित हो। तंत्र की कार्यकुशलता तथा विकास में पूर्ण सुधार, उत्पादन एवं वितरण में समस्त कमियों का निराकरण कर कार्य योजना तैयार की जाएगी।

इसके तहत जहां-जहां डेवलपमेंट होना है, नए आवास बनने हैं वहां भी बिजली पहुंचानी है। इस योजना के तहत एमडी कार्यालय से सभी अधिकारियों से डाटा मांगा गया है। इस संबंध में सदर अवर अभियंता ने अपना प्रपोजल दे दिया है। उन्होंने दो उपकेंद्रों की मांग की है। इसके अलावा दर्जनों की संख्या में ट्रांसफार्मर मांग रखी है। साथ ही जहां-जहां बिजली चोरी अधिक होती है वहां के लिए एबीसी केबल लगाने की मांग की गई है, ताकि बिजली चोरी की घटनाओं को रोका जा सके। इसके अलावा स्मार्ट मीटर लगाने की डिमांड की है।

बोले अधिकारी: रिवैम्प योजना के तहत अपने-अपने क्षेत्रों में आपूर्ति व्यवस्था को बेहतर करने के लिए सभी अवर अभियंताओं से स्टीमेट मांगा गया। नगर के लिए दो उपकेंद्र प्रस्तावित किए गए हैं। अन्य प्रस्ताव अभी तैयार किए जा रहे हैं। इसके अनुसार उन क्षेत्रों में लिए उतना बजट दिया जाएगा। इसका उद्देश्य है कि हर क्षेत्र को 24 घंटे निर्बाध आपूर्ति मिल सके। - सीबी सिंह, अधीक्षण अभियंता।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad