Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

परीक्षा केंद्र पर गड़बड़ी मिली तो तत्काल कार्रवाई होगी - उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा

0

उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने लखनऊ विश्वविद्यालय की ओर से कराई जाने वाली संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा और उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड की ओर से कराई जाने वाली टीजीटी व पीजीटी भर्ती परीक्षा में कोई भी अनियमितता पाए जाने पर तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। वह नकल विहीन संपन्न कराए जाने के संबंध में सोमवार को वीडियो कांफ्रेंसिंग कर रहे थे।

योजना भवन से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से डॉ. शर्मा ने प्रदेश के सभी कुलपतियों, मंडलायुक्तों, जिलाधिकारियों, पुलिस अधीक्षकों, क्षेत्रीय उच्च शिक्षा अधिकारियों, संयुक्त शिक्षा निदेशकों तथा जिला विद्यालय निरीक्षकों को परीक्षाओं के संबंध में दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि छह अगस्त को प्रस्तावित बीएड प्रवेश परीक्षा, सात व आठ अगस्त को प्रस्तावित टीजीटी भर्ती परीक्षा और 17 व 18 अगस्त को प्रस्तावित पीजीटी की भर्ती परीक्षा को शुचितापूर्ण एवं नकल विहीन ढंग से संपादित कराई जाए।

उन्होंने जिलाधिकारियों को निर्देश दिया कि किसी भी परीक्षा केंद्र से परीक्षा की शुचिता से संबंधित अप्रिय घटना नहीं होनी चाहिए। परीक्षा केंद्र पर अनियमितता पाए जाने पर संबंधित के खिलाफ तत्काल कार्रवाई की जाए। उन्होंने यह निर्देश भी दिया कि कोविड-19 के कारण बदली हुई परिस्थितियों में सामाजिक दूरी तथा फर्नीचर आदि के सैनेटाइजेशन की व्यवस्था की जाए।

संवेदनशील केंद्रों की होगी विशेष निगरानी

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा कि असामाजिक तत्वों तथा संवेदनशील परीक्षा केंद्रों का चिह्नीकरण लिया जाए और उन पर विशेष निगरानी रखी जाए। परीक्षाओं के आयोजन के संबंध में किसी भी प्रकार की लापरवाही या अनियमितता की शिकायत पाए जाने पर तत्काल कार्रवाई की जाएगी। बैठक में लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. आलोक कुमार राय, अपर मुख्य सचिव उच्च शिक्षा मोनिका गर्ग, अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा आराधना शुक्ला, एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार, प्रमुख सचिव उच्च शिक्षा सुभाष चंद्र शर्मा तथा एडीजी एसटीएफ अमिताभ यश समेत अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad