Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

जिधर देखो, उधर पानी ही पानी... बनारस में मां गंगा का गुस्सा आपने देखा क्या? PM Modi भी हैं परेशान

0

वाराणसी समेत पूर्वांचल के चंदौली, मीरजापुर, भदोही, बलिया, गाजीपुर और बलिया में गंगा की बाढ़ का कहर जारी है। सभी जगह खतरे के निशान के ऊपर बह रही गंगा की बाढ़ का पानी शहरी इलाकों के साथ ही गांवों में भरने से जनजीवन प्रभावित है। वाराणसी में बाढ़ के कारण रिहाइशी इलाकों में पानी भरने लगा है, जिसके बाद स्थानीय लोगों की मुसीबत बढ़ गई है। वहीं स्थितियों को देखते हुए पीएम मोदी ने खुद वाराणसी प्रशासन के अफसरों से बात की है।

वाराणसी समेत पूर्वांचल के तमाम जिलों में बड़ी संख्‍या में लोगों को सुरक्षित स्‍थानों पर भेजा गया है तो सैंकड़ों एकड़ में लगीं फसलें जलमग्‍न हो गई हैं। बाढ़ प्रभावित इलाकों में एनडीआरएफ के जवान राहत सामग्री पहुंचाने में जुटे हैं।

आबादी वाले हिस्सों में घुसा पानी

वाराणसी में मंगलवार शाम तक गंगा जलस्‍तर 71.82 मीटर पहुंच गया, जो खतरे के निशान से 56 सेंमी ऊपर है। गंगा का जलस्‍तर बढ़ने के कारण सामने घाट की कॉलोनियों के साथ ही नगवां से लेकर मलहिया, रमना की आबादी वाला इलाके तक में बाढ़ का पानी घुस गया है। लोग राहत शिविरों में पहुंचने लगे हैं या फिर अपने रिश्‍तेदारों के यहां शरण ली है।

वरुणा नदी का जलस्तर भी बढ़ा

नगवां गंगोत्री विहार, संगमपुरी, महेश नगर के निचले हिस्‍सों में बाढ़ का पानी बढ़ता ही जा रहा है। मारुति नगर, हरिओम नगर, गायत्री नगर और छित्तूपुर में मकानों में बाढ़ का पानी भरने से लोगों को दूसरी मंजिल पर शरण लेनी पड़ी है। उधर, गंगा की सहायक नदी वरुणा में भी उफान से दहशत फैली है।

तेजी से बढ़ रहा है गंगा का पानी

वाराणसी में गंगा का जलस्तर हर घंटे बढ़ रहा है। गंगा का पानी बढ़ने से तमाम घाट जलमग्न हो गए हैं। वहां घाटों पर शवदाह के स्थान भी बार-बार बदले जा रहे हैं।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad