Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

बुधवार को काफी प्रतीक्षा के बाद गाजीपुर जिले को मिली कोरोना वैक्सीन की 22 हजार डोज

0

काफी प्रतीक्षा के बाद गाजीपुर जिले को बुधवार को कोरोना वैक्सीन की 22 हजार डोज प्राप्त हुई। इसे विभिन्न टीकाकरण सेंटरों पर भेजा गया। हालांकि यह दो दिन भी टीकाकरण के लिए पर्याप्त नहीं है, फिर भी लोगों की बढ़ती मांग को देखते हुए कुछ राहत जरूर मिलेगी। जिले में प्रतिदिन 20 से 25 हजार डोज की मांग है लेकिन इसका आधी भी उपलब्ध नहीं हो पा रही है। कभी कोरोना वैक्सीन को देख मुंह फेरने वाले लोग अब उसे लगवाने के लिए घंटों लाइन में खड़े होकर इंतजार कर रहे हैं। इसके चलते सभी टीकाकरणकरण केंद्रों पर प्रतिदिन जबरदस्त भीड़ लग रही है। टीकाकरण के प्रति लोगों की जागरूकता देख स्वास्थ्य विभाग भी उत्साहित है।

जिला अस्पताल में चल रहे तीन बूथ

कोरोना टीका लगवाने के लिए सबसे अधिक भीड़ जिला अस्पताल में लग रही है। सुबह ही लोग यहां पहुंच जा रहे हैं। इसको देखते हुए यहां पर तीन-तीन बूथ बनाए गए हैं, ताकि लोगों को टीका लगवाने में आसानी हो। 18 से 45 वर्ष तक के लोगों के लिए अलग और 45 से ऊपर वाले लोगों के लिए अलग बूथ हैं। वहीं सेकेंड डोज के लिए भी अलग बूथ बनाया गया है। सभी बूथों पर जबरदस्त भीड़ लग जा रही है। काफी लंबी-लंबी लाइनें लग रही हैं।

महिलाएं भी पीछे नहीं

कोरोना टीकाकरण कराने में महिलाएं भी पीछे नहीं हैं। वह भी बढ़-चढ़कर इसमें हिस्सा ले रही हैं। जिला अस्पताल व जिला महिला अस्पताल में महिलाओं की अलग लाइन लग रही है। टीका लगवाने के लिए वह भी लाइन में घंटों खड़े रहकर प्रतीक्षा करने में गुरेज नहीं कर रही हैं। 

87 सेंटर व 161 मोबाइल टीमें

गाजीपुर जिले में कोरोना टीका लगाने के लिए छोटे-बड़े कुल 87 सेंटर चलाए जा रहे हैं। इसके अलावा 161 मोबाइल टीमें बनाई गई हैं जो गांव-गांव कैंप कर लोगों को टीका लगा रही हैं। कुछ दिन पहले तक गांव-गांव जोर-शोर से यह अभियान चला, लेकिन अब वैक्सीन की कमी से धीमा पड़ गया है।

बुधवार को शासन से कोविड-19 वैक्सीन की 22 हजार डोज मिली। इसे सभी सेंटरों पर भेजा गया है। गाजीपुर जिले में प्रतिदिन 20 हजार से अधिक डोज की आवश्यकता है, लेकिन उपलब्ध नहीं हो पा रही है। टीकाकरण के प्रति लोगों की जागरूकता काफी बढ़ी है।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad