Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

बलिया जिले में पूर्व जिला पंचायत सदस्य की हत्‍या में अधिवक्ता समेत तीन गिरफ्तार, राजनीतिक वर्चस्‍व में ली थी जान

0

बलिया जिले में पूर्व जिला पंचायत सदस्य बलवीर सिंह उर्फ जलेश्वर हत्याकांड का शनिवार की दोपहर पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया। इसमें शामिल अधिवक्ता समेत तीन को गिरफ्तार किया गया है। अन्य आरोपित समेत शूटरों की तलाश में छापेमारी चल रही है। सात जुलाई को बैरिया के देवराजब्रह्म मोड़ व चिरैया मोड़ के बीच बाइक सवार दो बदमाशों ने सोनबरसा गांव से जलेश्वर की गोली मारकर हत्या कर दी थी। वारदात के समय चांदपुर निवासी सबल सिंह भी कार में थे।

पुलिस अधीक्षक डा. विपिन ताडा ने घटना का पर्दाफाश करने के लिये चार टीमें गठित की थी। इसके लिए इलेक्ट्रानिक व अभिलेखीय साक्ष्य जुटाए गए। प्रभारी निरीक्षक राजीव कुमार मिश्र ने बताया कि हत्याकांड में शामिल सबल सिंह उर्फ अमृतेश सिंह निवासी चांदपुर, सुनील सिंह निवासी बैरिया व अभय कुमार भारती निवासी झंडा भारती के मठिया को गिरफ्तार किया गया है। इसमें सबल नामजद जबकि सुनील सिंह व अधिवक्ता अभय कुमार भारती का नाम विवेचना के दौरान सामने आया है। राजनीतिक वर्चस्व व पुरानी रंजिश में इन सभी ने प्रमुख व्यवसायी हरी सिंह निवासी बैरिया के साथ योजना बनाकर घटना काे अंजाम दिया था।

ऐसे बनी योजना:

पुलिस की पूछताछ में आरोपित अधिवक्ता अभय कुमार भारती ने बताया कि पांच जुलाई को हम लोगों ने सुनील सिंह व हरी सिंह के साथ मिलकर जलेश्वर की हत्या की योजना बनाई थी। मैंने शूटरों को कार की पहचान कराई। हत्या हो जाने के बाद देवराजब्रह्म मोड़ पर जाकर सुनील सिंह को बताया था कि काम हो गया। एसएचओ की मानें तो विवेचना अभी प्रचलित है और कुछ और लोगों की संलिप्तता सामने आ सकती है। हरी सिंह की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी की जा रही है।

निष्पक्ष जांच की मांग: 

बैरिया तहसील बार एसोसिएशन के महामंत्री अभय कुमार भारती को गिरफ्तार करने से आक्रोशित अधिवक्ता पांच दिनों से न्यायिक कार्य से विरत हैं। अध्यक्ष चंद्रशेखर यादव ने कहा है कि प्रकरण के निष्पक्ष जांच के लिए वह न्यायालय का दरवाजा खटखटाएंगे।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad