Featured

Type Here to Get Search Results !

साइबर अपराधियों को बजाज फाइनेंस कंपनी का डाटा बेचने वाला गिरफ्तार, ऐसे ठग जाते थे लोग

0

आगरा के थाना जगदीशपुरा पुलिस और साइबर टीम ने बजाज फाइनेंस कंपनी का डाटा चोरी कर बेचने वाले शातिर आरोपी को गिरफ्तार किया है। बेचे गए डाटा के आधार पर साइबर अपराधी लोगों को फोन कर झांसे में लेकर चूना लगा रहे थे। qपीड़ितों ने फाइनेंस कंपनी में शिकायत की तो मामला प्रकाश में आया। मैनेजर की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर साइबर सेल और पुलिस ने कार्रवाई की है। आरोपी फाइनेंस कंपनी का पूर्व कर्मचारी बताया गया है।

बजाज फाइनेंस के रिस्क मैनेजर करन कुमार गुप्ता ने मामले में मुकदमा दर्ज कराया था। थाना जगदीशपुरा स्थित आवास विकास कॉलोनी, सेक्टर-4 में बजाज फाइनेंस का कार्यालय है। मुकदमे के मुताबिक मथुरा के थाना राया निवासी पीएसी जवान मनोज कुमार ने धोखाधड़ी की शिकायत की थी। शातिर ने अक्तूबर 2020 में उन्हें फोन करके बताया कि उनका एक लाख रुपये का लोन पास हो गया है। उनसे आधार कार्ड और पैन कार्ड की कापी व्हाट्सएप पर भेजने को कहा। विश्वास में लेने के लिए उन्हें बजाज फाइनेंस की फर्जी वेबसाइट पर डाटा दिखा दिया। इसके बाद प्रोसेस चार्ज, वेरिफिकेशन फीस के नाम पर अपने खाते में तीन बार में 14,105 रुपये जमा करा लिए। इसी तरह से कई लोगों के साथ ठगी हुई। शिकायत मिलने पर मामले में मुकदमा दर्ज कराया गया।

चौकी प्रभारी आवास विकास चंद्रवीर सिंह ने बताया कि मामले में आरोपी कुलदीप सोनी को गिरफ्तार किया है। वह कंपनी का पूर्व कर्मचारी है। साल 2018 में बजाज फाइनेंस में वेरीफिकेशन का काम करता था। उसके पास लोगों का डाटा रहता था। फाइनेंस कंपनी के रिस्क मैनेजर ने बताया कि दो माह पूर्व पुलिस ने संजय प्लेस से एक फर्जी कॉल सेंटर पकड़ा था। इसके बाद मामले में खुलासा हुआ था। मामले में और भी पीड़ित हो सकते हैं।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad