Featured

Type Here to Get Search Results !

गाजीपुर: 9 श्मशान घाटों पर खुला लकड़ी बैंक, यूथ रूरल एंटरप्रेन्योर फाउंडेशन ने की पहल

0

निर्धन लोगों के शवों के अंतिम संस्कार के लिए अब धन आड़े नहीं आएगा। उनकी सहायता के लिए यूथ रूरल एंटरप्रेन्योर फाउंडेशन निरंतर कोशिश कर रहा है। फाउंडेशन की ओर से जिले के नौ श्मशान घाटों पर लकड़ी बैंक खोला गया है। इसके लिए बकायदे रोड मैप तैयार किया है। सभी जगह के लिए इंचार्ज भी नियुक्त किए गए हैं। यहां से निर्धन लोगों के शव का अंतिम संस्कार करने के लिए निश्शुल्क लकड़ी दी जा रही है।

इस समय कोरोना महामारी के चलते लोगों की बहुत अधिक मौतें हो रही हैं। इससे लकड़ी का अभाव हो गया है और उनका दाम भी बढ़ गया है। इसे परेशानी को देखते हुए यूथ रूरल एंटरप्रेन्योर फाउंडेशन ने यह पहल की है। इसकी शुरुआत पांच दिन पहले अति प्राचीन श्मशान घाट बैकुंठ धाम गाजीपुर पर लकड़ी बैंक खोलकर की गई थी। अब जिले के आठ और श्मशान घाटों पर लकड़ी बैंक खोला गया है। फाउंडेशन की ओर से खोले गए लकड़ी बैंक के इंचार्ज भी नियुक्त किए गए हैं और उनका संपर्क नंबर भी जारी किया गया है। कोई भी जरूरतमंद व्यक्ति यहां फोन कर या सीधे संपर्क कर शवदाह के लिए निश्शुल्क लकड़ी प्राप्त कर सकता है।

सहयोग कर रहे लोग

लकड़ी बैंक संचालन करने में लोग खूब सहयोग कर रहे हैं। अब तक दर्जन से अधिक लोग सामने आए हैं, जो अपनी ओर से लकड़ी उपलब्ध करा रहे हैं। फिलहाल सात सौ क्विंटल लकड़ी जमा कर ली गई है। आगे यह बढ़कर तीन से चार हजार क्विंटल हो जाएगी। किसी भी श्मशान घाट पर लकड़ी की कोई कमी नहीं होगी

लकड़ी बैंक व उनके इंचार्ज

1- बैकुंठ धाम गाजीपुर - कुंवर विरेंद्र प्रताप सिंह : 9451191999

2- जौहरगंज सैदपुर - अनूप जायसवाल : 9125868686

3- चोचकपुर - अरविंद सिंह : 9838405505

4- धरम्मरपुर - डा. अवधेश यादव : 9335563421

5- दैत्राबाबा घाट बरेसर जमानियां - शमशेर सिंह मंटू : 9415295300

6- सुल्तानपुर - विधानचंद्र राय : 9453682111

7- वीरपुर - राजकिशोर राय : 9555740833

8- शेरपुर - मुरारी राय : 9140944563, बच्चू बाबा : 9044122511

9- गहमर - राेशन : 8799715070, बाउल सिंह : 8299768392

निर्धन लोगों के शवों के अंतिम संस्कार के लिए निश्शुल्क लकड़ी दी जा रही है

इस संकट की घड़ी में मैं पूरी तरह जनपदवासियों के प्रति समर्पित हूं। कोरोना महामारी से हम सब मिलकर लड़ेंगे। श्मशान घाटों पर लकड़ी के संकट को देखते हुए यह कदम उठाया गया है। जिले के नौ श्मशानघाटों पर लकड़ी बैंक खोले गए हैं। यहां से निर्धन लोगों के शवों के अंतिम संस्कार के लिए निश्शुल्क लकड़ी दी जा रही है।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad