Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

उत्तर प्रदेश: लाखों श्रमिकों को मिलेगा दो बीमा योजना का लाभ व 5 मई से मुफ्त राशन

0

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्याथ ने लाखों श्रमिकों को बड़ी सौगात देते हुए उन्हें दो लाख रुपये तक का सुरक्षा बीमा कवर देने का निर्णय लिया है। इसके अलावा उन्हें पांच लाख रुपये तक स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ दिलाया जाएगा। सीएम ने कि उनकी सरकार ने पिछली कोरोना लहर में 54 लाख श्रमिक कामगार जनों को भरण-पोषण भत्ता दिया। ऐसा करने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य था। सभी के राशन-भोजन की व्यवस्था भी की गई थी। इस बार भी चिंता मत कीजिये, 5 मई से राशन मुफ्त मिलने जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने शनिवार को श्रमिक दिवस पर मजदूरों से संवाद करते हुए यह ऐलान किया। इन बीमा योजना के दायरे में पंजीक़ृत, गैरपंजीकृत श्रमिक, खेती व उद्योगों में लगे मजदूर, कुली, रेहड़ी,ठेला, खोमचा लगाने वाले या निर्माण के काम में लगे मजदूर शामिल होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि दुर्भाग्यवश यदि आप के साथ कोई अप्रिय दुर्घटना घटती है तो यह 2 लाख रुपये आपके परिजनों के लिए बड़ा सहारा बनेंगे। इसी प्रकार सभी को पांच लाख रुपये तक तक स्वास्थ्य बीमा कवर देने की भी योजना शुरू की जा रही है। अब आपको इलाज के लिए परेशान नहीं होना पड़ेगा। यह दो प्रयास आपकी सामाजिक सुरक्षा को सुनिश्चित करने की दिशा में महत्वपूर्ण होंगे।

सीएम ने कहा कि कोविड महामारी की पहली लहर में श्रमिकों की जीवन और जीविका दोनों को संरक्षित करने का प्रयास किया। सभी को भरण-पोषण भत्ता प्रदान किया। सभी को राशन उपलब्ध कराया। यह धनराशि आपके खून-पसीने की कमाई ही थी, गाढ़े वक्त में आपको ही समर्पित किया।

साप्ताहिक बंदी में श्रमिकों को आने जाने में कोई दिक्कत नहीं
साप्ताहिक बन्दी में औद्योगिक गतिविधियां संचालित हो रही है। आपको आने-जाने में कोई समस्या नहीं होगी। साथियों, लापरवाही बिल्कुल न करें। थोड़ी सी लापरवाही भारी पड़ सकती है। महामारी है तो थोड़ी दिक्कत तो जरूर होगी। फिर भी हम आप लोगों की सुविधा के लिए सभी जरूरी प्रयास कर रहे हैं।

आपकी मेहनत को हमने सम्मान दिया
सरकार ने आपकी बेटियों के विवाह के लिए सामूहिक विवाह का कार्यक्रम चलाया है। पहले लोग इसमें आने को लेकर हिचकिचाते थे। अब डीएम कार्ड बांटते हैं, विधायक मंत्री आते हैं। यह आपकी मेहनत को सम्मान देने का ही एक प्रयास है। कोरोनाकाल में अटल आवासीय विद्यालयों की स्थापना का काम थोड़ा धीमा हुआ है, लेकिन जल्द ही इसे हम पूरा कराएंगे।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad