Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

बलिया जिला में यूपी के दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर, रिजल्ट पर सभी की नजरें

0

बलिया में प्रधान पद के 940 व जिला पंचायत सदस्य की 58 सीटों के साथ ही बीडीसी व ग्राम पंचायत सदस्य के लिए वोटों की गिनती रविवार की सुबह शुरू हो गयी। इन पदों के लिए कुल 28067 प्रत्याशी मैदान में हैं। हालांकि कुछ ब्लाकों की मतगणना दस बजे तक चालू नहीं हो सकी थी। डीएम अदिति सिंह व एसपी डॉ विपिन ताडा मतगणना स्थलों का निरीक्षण कर रहे हैं। 

बलिया में जिला पंचायत सदस्य के 58, बीडीसी के 1441, प्रधान के 940 तथा ग्राम पंचायत सदस्य के 11,526 पद है। 26 अप्रैल को हुए मतदान में 60.42 प्रतिशत मतदताओं ने वोट डाले थे। इसकी गणना रविवार की सुबह आठ बजे से जिले के 17 ब्लाकों में बने मतगणना स्थल पर की जा रही है। सभी मतगणना स्थल के बाहर प्रत्याशियों तथा समर्थकों की भीड़ जुटी है। कुछ देर के लिए बांसडीह में भीड़ बेकाबू हो गई। सुरक्षाकर्मियों ने जैसे-तैसे मुख्य गेट बंद किया। मतगणना स्थल पर अनाधिकृत लोगों का प्रवेश वर्जित है। तमाम निर्देशों व दावों के बावजूद मतगणना स्थलों पर कोरोना मानकों की धज्जियां उड़ती दिखीं। भीड़भाड़ पर भी रोक लगाने के लिए पुलिस सक्रिय है।

इन दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर
पंचायत चुनाव में कुछ राजनीतिक दिग्गजों की प्रतिष्ठा भी दांव पर लगी है। यहां नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी के पुत्र रंजीत चौधरी, पूर्व मंत्री अंबिका चौधरी के पुत्र आनंद चौधरी, पूर्व विधायक जय प्रकाश अंचल के पुत्र विनय अंचल जिला पंचायत सदस्य पद के लिए चुनावी समर में हैं। इनके भी भविष्य का फैसला आज होगा।  माना जा रहा है कि इन सबकी नजर जिला पंचायत अध्यक्ष पद पर है, जो अन्य पिछड़ा वर्ग के लिए आरक्षित है।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad