Welcome to Dildarnagar!

Featured

Type Here to Get Search Results !

पंचायत चुनाव में चंदौली से आया सबसे पहला रिजल्ट, दो वोटों से जीता ग्राम प्रधान का चुनाव

0

यूपी में पंचायत चुनाव की गिनती सुबह आठ बजे से शुरू हो चुकी है। सबसे पहला रिजल्ट पूर्वी यूपी के बिहार से सटे चंदौली जिले से आया है। यहां मात्र दो वोटों से प्रधानी का चुनाव जीत लिया गया है। चकिया ब्लाक के इसहुल गांव के प्रधान पद पर ओमप्रकाश सिंह निर्वाचित हुए हैं। उन्होंने 470 मत पाकर निकटतम प्रतिद्वंदी चंदन (468) को केवल दो वोटों के अंतर से पराजित किया।

चंदौली के विभिन्न ब्लाकों में चयनित मतगणना स्थल पर मतों की गिनती सुबह आठ बजे से ही शुरू हो गई है। मतगणना शुरू होने से दो घंटे पहले ही प्रत्याशियों और एजेंटों की भीड़ यहां लग चुकी थी। जिले के सभी ब्लाकों में मतगणना के लिए 341 टेबल लगाए गए हैं। 3500 कार्मिक मतों की गिनती करने में लगे हैं। 4400 मतगणना कार्मिकों की ड्यूटी लगाई गई है। 20 फीसदी कार्मिकों को रिजर्व में रखा गया है।

जिले में कुल 734 प्रधान, 35 जिला पंचायत सदस्य, 886 बीडीसी और 9 हजार ग्राम पंचायत सदस्यों की 26 अप्रैल को मतदान हुआ था। हालांकि छह ग्राम प्रधान सीट पर एक-एक प्रत्याशी के निधन से यहां मतदान स्थगित हो गया था। अब 9 मई को इन छह सीट पर मतदान होगा। इसके अलावा शेष सभी सीटों पर मतदान की प्रक्रिया पूरी कराई जा चुकी हैं। जिले में 58.98 प्रतिशत मतदान हुआ था। सभी नौ ब्लाक नियामताबाद, चहनियां, धानापुर, बरहनी, शहाबगंज, नौगढ़, चकिया, सकलडीहा व सदर में अलग-अलग मतगणना स्थल बनाया गया है। कड़ी सुरक्षा के बीच रविवार को वोटों की गिनती शुरू हो गई है। लगभग चार हजार कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है।

पहले जांच फिर प्रवेश
कोरोना महामारी को देखते हुए सभी मतगणना स्थल पर थर्मल स्क्रीनिंग की व्यवस्था की गई हैं। मतगणना एजेंट को पहले थर्मल स्क्रीनिंग के बाद ही अंदर जाने दिया जा रहा है। साथ ही मास्क, सेनेटाइजर, ग्लब्स व कोरोना निगेटिव जांच रिपोर्ट अनिवार्य किया गया है।

सोशल डिस्टेंस की उड़ी धज्जियां
जिला प्रशासन की ओर से न्याय पंचायत वार वोटों की गितनी का प्लान बनाया गया है। इसके तहत ही बारी आने पर संबंधित मतगणना एजेंट को ही अंदर जाने दिया जा रहा है। मतगणना स्थल के बाहर लिस्ट भी चस्पा की गई है। हालांकि इसके बावजूद मतगणना स्थल के बाहर सैकड़ों की संख्या में मतगणना एजेंट, प्रत्याशी व समर्थकों की भीड़ जुटी है। इससे सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं हो रहा है।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad