Featured

Type Here to Get Search Results !

गाजीपुर जिले में 21 मई से होगा कोटेदारों द्वारा निश्शुल्क राशन वितरण

0

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अन्तर्गत जनपद में 21 से 30 मई तक निश्शुल्क राशन का वितरण अंत्योदय व पात्र गृहस्थी के लाभार्थियों को किया जाएगा। इसमें 59535 अंत्योदय व 582257 पात्र गृहस्थी के लाभार्थियों को लाभ मिलेगा। 17 मई तक लाभार्थी सामान्य राशन को ले सकते हैं।

कोरोना संकट को देखते हुए केंद्र सरकार की ओर से गरीबों व कमजोर वर्ग के लोगों के अंत्योदय व पात्र गृहस्थी के लाभार्थियों की सहायता के लिए निश्शुल्क राशन वितरण करने का फैसला लिया गया था। इसके तहत जनपद में वितरण की तैयारी पूरी कर ली गई है। ग्रामीण क्षेत्र के 1533 व नगरीय क्षेत्र के 85 दुकानदारों ने राशन का उठान प्रारंभ कर दिया है। कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए सभी लाभार्थियों को प्रति यूनिट पांच किलो राशन का वितरण किया जाएगा। दूकान पर एक बार में पांच से अधिक लोग एकत्र नहीं होंगे।

21 मई से जनपद के सभी कोटेदारों द्वारा निश्शुल्क राशन का वितरण किया जाएगा। इसके लिए सभी को गाइडलाइन जारी कर दी गई है। प्रत्येक लाभार्थी को प्रति यूनिट पांच किलो राशन का वितरण करना है।

ढैंचा की बोआई कर बढ़ाएं उपज

जनपद में किसान खरीफ की फसल,धान की रोपाई की तैयारी में लग गए हैं। धान की अधिक पैदावार लेकर किसानों की आय को बढ़ाने के लिए कृषि विभाग की ओर से किसानों को ढैंचा की बोआई की सलाह दी जा रही है। इससे मिट्टी की सेहत अच्छी होगी और उसमें उर्वरा शक्ति भी भरपूर रहेगी। इसके लिए ब्लाक के सभी 16 गोदामों पर ढैंचा का बीज उपलब्ध करा दिया गया है।

जिला कृषि अधिकारी मृत्युजंय कुमार सिंह ने बताया कि हरी खाद का इस्तेमाल कर किसान 25 फीसद तक मिट्टी की उर्वरा शक्ति बढ़ा सकते हैं इससे अच्छी उपज प्राप्त कर सकते हैं। ढैचा की बुआई के 40 से 50 दिन बाद जोताई कर दें। फिर उसके एक सप्ताह बाद धान की रोपाई कर सकते हैं। कृषि विभाग की ओर से किसानों को ढैंचा का बीज दिया जा रहा है। सभी विकास खंडों पर 40-40 क्विटल बीज वितरण के लिए भेजा गया है। इसे गोदामों से लेकर किसान बोआई कर सकते हैं। प्रदर्शन बोआई पर किसानों को उनके खाते में 90 प्रतिशत का अनुदान विभाग की ओर से दिया जाएगा।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad