Featured

Type Here to Get Search Results !

जानिए, UP में कैसे मिलेगा एक हजार भत्ता, क्या है नियम और कहां होगा रजिस्ट्रेशन

0

याेगी सरकार के कैबिनेट मंत्री और प्रवक्ता अनिल राजभर ने बताया कि मुख्यमंत्री की घोषणा के अनुरूप प्रदेश में एक हजार रुपये की आर्थिक सहायता जल्द ही दी जाएगी।  इसके लिए ठेला-पटरी और रेहड़ी व्यवसायी, नाविक, लोहार, कुम्हार, कहार, धोबी, नाई, मोची समाज के लोगों का पहले पंजीकरण होगा। शहरी क्षेत्र के लाभार्थियों के लिए नगर निगम और ग्रामीण क्षेत्र के लिए पंचायत विभाग को जिम्मेदारी दी गई है। पिछले साल 60 हजार ऐसे लाभार्थी परिवारों तक धनराशि पहुंचायी गई थी।

वाराणसी के सर्किट हाउस में मीडिया से बातचीत में अनिल राजभर ने कहा कि अन्त्योदय एवं पात्र गृहस्थी कार्डधारकों को निःशुल्क राशन मिलेगा। जिन पात्र लोगों के कार्ड अभी नहीं बन पाए हैं, उनको वरीयता के आधार पर कार्ड बनाकर राशन दिया जाएगा। प्रदेश में कोई भी परिवार भूखा ना रहने पाए, इस संकल्प के साथ यह व्यवस्था हुई है। कहा कि कर्फ्यू के कारण कोरोना संक्रमण में काफी कमी आयी है। 24 मई तक कर्फ्यू को बढ़ाने के  बाद संक्रमण न के बराबर तक पहुंच जाएगा।अनिल राजभर ने बताया कि 17 मई से 18 से 44 वर्ष के बीच के लोगों को सभी जिलों में टीका लगेगा। मंत्री ने लोगों से अपील की है कि स्लॉट बुक कराकर वैक्सीन अवश्य लगवाएं।

गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों के लिए टास्क फोर्स

मंत्री ने बताया कि कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए लक्षण दिखने पर गर्भवती महिलाओं और बच्चों की देखभाल के लिए जनपदवार टास्क फोर्स का गठन होगा। टास्क फोर्स 24 घंटे काम करेगी। उन्होंने कहा कि नि:शुल्क वैक्सीनेशन में यूपी देश में अव्वल है। 

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad