Featured

Type Here to Get Search Results !

मुहम्मदपुर और कुसी गांव में ढाई माह में 54 मौतें, ग्राम प्रधान ने DM को लिखा पत्र इंटरनेट मीडिया पर किया वायरल

0

जमानियां ब्लाक स्थित मुहम्मदपुर व कुसी गांव में पिछले दो महीनों में एक के बाद एक हुई 54 मौतों से ग्रामीण सहम गए हैं। पिछले 23 मार्च से 15 मई तक मुहम्मदपुर में 30 और कुसी गांव में मरने वालों की संख्या 24 पहुंच गई है। लोगों को आशंका है कि ज्यादातर मौतें कोरोना महामारी के चलते हुईं हैं। उनका आरोप है कि यह गांव रेड जोन में है, इसके बाद भी स्वास्थ्य विभाग की टीम यहां झांकने नहीं आई। अब मुहम्मदपुर की नव निर्वाचित प्रधान आरती देवी ने मौत के आंकड़े सहित जिलाधिकारी के नाम पत्र लिखकर इंटरनेट मीडिया पर वायरल किया है।

मुहम्मदपुर गांव के लेखपाल सुभाष ने बताया कि गांव में 23 मार्च से 15 मई तक 30 लोगों की मौत हुई है। सभी मृतकों की सूची बनाकर तहसील के उच्चाधिकारियों को प्रेषित भी कर दिया गया है। गांव में लगातार मौत होने से गांव को रेड जोन में डाला गया है, लेकिन गांव में स्वास्थ्य विभाग की टीम क्यों नहीं पहुंची? इस बारे में मुझे नहीं मालूम है। कुसी के लेखपाल सोनू कुमार ने बताया कि मार्च माह से लेकर अब तक 24 लोगों की मौत हो चुकी है। शीघ्र ही सूची बनाकर उच्चाधिकारियों को भेजी जाएगी। मुहम्मदपुर के ग्राम प्रधान प्रतिनिधि अनिल ने बताया कि ग्रामीणों की मौत की जानकारी जिलाधिकारी, उपजिलाधिकारी सहित तहसील के अधिकारियों को देने के बाद भी कुछ नहीं हुआ। लगातार हो रही मौतों से ग्रामीण भयभीत हैं। गांव में अब तक रैपिड रिस्पांस टीम भी नहीं पहुंची।

सर्पदंश से विवाहिता की मौत

खानपुर क्षेत्र के शिवदासपुर में घर की सफाई करते समय सांप के डंसने से अनीता देवी (35) की मौत हो गई। वह शनिवार की शाम रसोईघर में मिट्टी का लेपन कर रही थी। एक बड़े डब्बे के किनारे हाथ ले जाते ही अंगुली में सांप ने डंस लिया। चीख सुनकर इलेक्ट्रिशियन पति अरुण प्रताप पत्नी को लेकर गाजीपुर स्वास्थ्य केंद्र पहुंचे। जहां इलाज के दौरान देर रात उसकी मौत हो गई। अनीता की दो अबोध बच्चियां और एक पांच वर्षीय बालक दहाड़े मार कर अपने मां से लिपटकर रोने लगे।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad