Featured

Type Here to Get Search Results !

विंध्याचल में श्रद्धालुओं को कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट साथ लाने पर ही मिलेगा दर्शन

0

नवरात्र में विंध्याचल मां का दर्शन पूजन करने आने वाले श्रद्धालुओं को कोविड की निगेटिव रिपोर्ट और आधार कार्ड भी लाना अनिवार्य कर दिया गया है। निगेटिव रिपोर्ट दिखाने के बाद ही दर्शन की इजाजत मिलेगी। कोविड जांच की रिपोर्ट 48 घंटे से पहले की होनी चाहिए। राहत की बात यह है कि आरटीपीसीआर और एंटीजन किट दोनों से हो सकती है।

डीएम प्रवीण कुमार लक्षकार ने बताया कि यह व्यवस्था कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए की गई है। जिले में नाइट कर्फ्यू लागू कर दिया गया है। चैत्र नवरात्र मेला के दौरान भी मंदिर में दर्शन पूजन रात्रि नौ बजे से सुबह छह बजे तक प्रतिबंधित कर दिया गया है।  सभी दर्शनार्थी अनिवार्य रूप से मास्क पहनेंगे,  सैनिटाइजेशन व सोशल डिस्टेंसिंग का शत-प्रतिशत पालन किया जाएगा।

दर्शन के दौरान किसी भी दर्शनार्थी को गर्भ गृह में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। दर्शन पूजन सुबह 6:00 बजे से रात्रि नौ बजे तक किया जा सकेगा। रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन व टैक्सी स्टैंड पर लोगों की जांच कराई जाएगी। कोविड-19 पाजिटिव पाए जाने पर संबंधित दर्शनार्थियों को कोविड प्रोटोकल के अनुसार आइसोलेशन में भर्ती कराए जाने की कार्रवाई की जाएगी।

सभी दर्शनार्थियों से अनुरोध है कि कोविड-19 की जांच आरटीपीसीआर व एंटीजन किट से जांच कराके ही दर्शन के लिए आएं। कोविड-19 की जांच रिपोर्ट निगेटिव 48 घंटे से अधिक पुरानी न हो। इसके अलावा कोविड की रेंडमली चेकिंग भी की जाएगी। सभी दर्शनार्थियों से अनुरोध है कि 65 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति, एक से अधिक बीमारी से पीड़ित व्यक्ति, गर्भवती महिलाएं और दस वर्ष आयु के नीचे के बच्चों को दर्शन के लिए साथ न लाएं।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad