Featured

Type Here to Get Search Results !

गाजीपुर जिले से तिलक चढ़ाने गए और कभी नहीं लौटे, मऊ में 26 April को तय थी शादी

0

जिले के मरदह थाने के लहुरापुर में शनिवार की सुबह चहुंओर मातम और सिसकियां थीं। गांव निवासी रमाकांत पांडेय के बेटी अंशू के तिलकोत्सव कार्यक्रम में गए आजमगढ़ के सुहवल चट्टी पर सड़क हादसे में छह लोगों की मौत ने चीत्कार मची रही। मृतकों में चार रवि पांडेय, देवेंद्र शर्मा, रामचीज सिंह, सच्चिदानंद, लहुरापुर और जनार्दन पास के गांव भोजापुर के रहने वाले थे। रवि पांडेय अंशू का सबसे छोटा भाई था। 

मरदह थाना अंतर्गत लहुरापुर गांव के रमाकांत उर्फ छोटे पांडेय की पुत्री की शादी मऊ जिले के मोहम्मदाबाद कोतवाली अंतर्गत टेकई गांव निवासी अभय कुमार पांडेय से 26 अप्रैल को तय थी। शुक्रवार को तिलकोत्सव के कार्यक्रम में तीन वाहनों के साथ गए करीब 30 लोग गए थे। इनमें नात-रिश्तेदार व परिजनों के अलावा गांव और आसपास के बेहद खास लोग भी थे। उनको क्या पता था कि काल बनकर ट्रक इस तरह का दर्द दे जाएगा, जिसका जख्म शायद ताउम्र न भर पाए। मौत ने सभी परिवारों को झकझोर कर रख दिया तो अंशू टूट चुकी है। वह बांवली सी होकर पड़ी रही। लोग उसे संभालते रहे। पीड़ित परिवारों में कोहराम मचा रहा। चहुंओर चीख-पुकार से माहौल गमगीन रहा।

रामचीज के घर आज तो जनार्दन के बेटे की 21 मई को विवाह

पांच भाई-बहनों में रवि पाण्डेय सबसे छोटा था। उसकी अभी महज 26 वर्ष की अवस्था थी और वह राजस्थान बीकानेर में सेना (आर्टीलरी रेजीमेंट) में तैनात था। अपनी बहन की शादी में सम्मिलित होने के लिए हाल ही में छुट्टी लेकर घर आया था। उसने ट्रामा सेंटर में इलाज के दौरान दम तोड़ा। दूसरे मृतक हरिकेश पाण्डेय दुल्लहपुर थाना के टड़वा जलालाबाद निवासी रमाकांत के समधी थे। उनके बड़े पुत्र शशिकांत से उनकी बेटी की शादी हुई है। वह भी ट्रामा सेंटर में इलाज के दौरान ही दम तोड़े। तीसरा मृतक लहुरापुर गांव निवासी देवेश शर्मा तीन भाइयों में दूसरे नम्बर पर बीए का छात्र और अभी अविवाहित था।

चौथा मृत रामचीज सिंह निवासी लहुरापुर घर पर रहकर खेती किसानी करते थे। आज यानी 25 अप्रैल को रामचीज के भाई के लड़के राजा की शादी थी। हादसे में पांचवें मृतक सचितानन्द सिंह भी खेती-बारी करते थे। वह विवाहित थे, लेकिन उनकी कोई संतान नहीं थी। छठा मृतक भोजापुर निवासी जनार्दन भी खेतीबारी का काम करते थे। जनार्दन चौहान के सबसे छोटे बेटे राजेश का 14 मई को तिलक, जबकि 21 मई को शादी थी। उनके दो बेटे और एक बेटी है। सबका रो-रोकर बुरा हाल है।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad