Featured

Type Here to Get Search Results !

गाजीपुर: बुधवार को किसी को कार तो कोई गले का हार लेकर लौटा

0

जनपद में पंचायत चुनाव की सरगर्मी में अगले चरण में बुधवार को रायफल क्लब सहित सभी ब्लाक मुख्यालयों पर नामवापसी के बाद तीन बजे से चुनाव चिह्न का वितरण किया गया। अपने नाम का क्रम जानने व चुनाव चिह्न के लिए दिन भर उम्मीदवारों की भीड़ लगी रही। देर शाम तक लोग अपना चुनाव चिह्न जानने में लगे रहे। चुनाव चिह्न में सभी पदों के प्रत्याशियों को अलग-अलग वितरित किया गया। इसमें किसी को कार, तोप, त्रिशुल, गले का हार, इमली, आम, अमरूद आदि वितरित किया गया। अब यह प्रत्याशी अपने चुनाव चिह्न के साथ अपने मतदाताओं को नमूना बैलेट पेपर पर समझाएंगे कि मोहर कहां लगानी है। 

सैदपुर: स्थानीय ब्लाक में बुधवार को नाम वापसी प्रक्रिया समाप्त होने के बाद नामांकन स्थल पहुंचे त्रिस्तरीय पंचायत के प्रत्याशी अपने अपने चुनाव चिह्न लेकर गांवों में लौटे। नाम वापसी के बाद बचे उम्मीदवारों में किसी को कार किसी को गले का हार तो किसी को तीर, तलवार, तोप, बंदूक व त्रिशूल मिल गया। पंचायत चुनाव में प्रशासन भले ही हथियारों पर प्रतिबंध लगा दिया हो पर चुनाव में प्रत्याशी इन्हीं हथियारों का चुनाव निशान लेकर अपना प्रचार करेंगे। आगामी गुरुवार को वोटिग के दिन इन्ही चुनाव निशानों पर उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होने वाला है। 

चुनाव चिह्न मिलते ही उम्मीदवार सीधे प्रिटिग प्रेस और चुनाव सामग्रियों के दुकान पर पहुंचे। अपने-अपने चुनाव चिह्न के प्रतीकों का प्रचार सामग्री लेकर दरवाजे दरवाजे दस्तक देना शुरू कर दिए हैं। प्रत्याशियों का कहना है कि मतदान के समय मतपत्र पर नाम नही होने से मतदाताओं को चुनाव चिह्न की अच्छी तरह पहचान कराना जरूरी है। उपजिलाधिकारी विक्रम सिंह ने बताया कि नाम वापसी के बाद अवशेष प्रत्याशियों की सूची प्रपत्र 13 में हिदी के वर्णमाला के अक्षरों के क्रम में तैयार कर क्रमानुसार चुनाव चिह्न आवंटित किए गए।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad