Featured

Type Here to Get Search Results !

अवैध संबंध में बाधा बनने पर मदनपुरा गांव निवासी युवक राकेश की हुई हत्या

0

कोतवाली क्षेत्र के मदनपुरा गांव निवासी युवक राकेश गुप्ता की हत्या किसी और ने नहीं बल्कि उसके सगे साढू मनोज गुप्ता ने ही की थी। रविवार को पुलिस ने हत्यारे साढू मनोज गुप्ता निवासी खरगसीपुर उर्फ नई बाजार को गिरफ्तार कर दो महीने बाद इस सनसनीखेज हत्याकांड का राजफाश किया है।

कोतवाल रविद्र भूषण मौर्य ने बताया कि साढू मनोज का राकेश की पत्नी से नाजायज संबंध था। राकेश को मनोज के इस कृत्य की भनक लग गई थी। राकेश अपनी पत्नी को मनोज से संबंध न रखने को कहता था, लेकिन उसकी पत्नी यह मानने को तैयार नहीं थी। वह मनोज के साथ उपचार के नाम पर घर से बाहर भी जाती रहती थी। पत्नी के आचरण में सुधार न होने पर राकेश ने एक-दो बार अपनी पत्नी को पीट दिया था। आए दिन पति-पत्नी के बीच इसे लेकर कलह होता रहता था। राकेश की पत्नी ने मनोज को इसकी जानकारी दी तो मनोज ने राकेश को हमेशा के लिए रास्ते से हटाने की योजना बना डाली। योजना के तहत घटना वाले दिन शाम को मनोज ने राकेश को भरोसे में लेकर मुर्गा की दावत के लिए राजी किया। 

राकेश ने घर पर पत्नी को मुर्गा लाकर दिया और थोड़ी देर बाद आने की बात कहकर बाहर चला गया। बाजार में उसकी मुलाकात मनोज से हुई। मनोज उसे लेकर गांव के पूरब सिवान में गया। वहां राकेश को शराब पिलाया। जब राकेश नशे में बेसुध हो गया तो मनोज ने धारदार हथियार से राकेश के सिर के पीछे प्रहार कर उसकी हत्या कर दी और हत्या में इस्तेमाल हथियार को गंगा नदी में फेंक कर वापस लौट आया। इधर जब राकेश घर नहीं लौटा तो परिजनों के साथ-साथ मनोज भी राकेश की खोजबीन में सहायता का नाटक करने लगा। हत्या के बाद से ही मनोज की भूमिका संदिग्ध थी। पुलिस ने उससे कई दिनों तक पूछताछ की थी। हत्या में उसकी संलिप्तता का ठोस प्रमाण न मिलने के आधार पर उसे छोड़ दिया था।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad