Featured

Type Here to Get Search Results !

पिता ने बेच दिया 18 दिन के मासूम को, मां की ममता ने थाने का रुख कर पाया इंसाफ

0

कलयुगी पिता ने ही अपने 15 दिन के मासूम बेटे का सौदा कर दिया। पति के डर से कुछ दिन तक जन्म देने वाली मां भी चुप रही, लेकिन अपने लाल के लिए तड़प रही महिला अंत में पुलिस तक पहुंच गयी। खबर मिलने के बाद सक्रिय हुई तो पुलिस ने मासूम की सौदेबाजी में शामिल महिला के पति, खरीदार, मध्यस्थता करने वाले चिकित्सक व महिला दलाल को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपियों के पास से नवजात के साथ ही करीब 1.23 लाख रुपये बरामद कर लिया है। सभी के खिलाफ केस दर्ज कर पुलिस ने शनिवार को जेल भेज दिया।

हल्दी थाना क्षेत्र के गायघाट रुद्रपुर निवासी संतोष राम की पत्नी गुड़िया (28) गर्भवती थी। घर के हालात ठीक नहीं थे लिहाजा कुछ दिनों पहले वह मनियर थाना क्षेत्र के दियरा टुकड़ा नम्बर दो अपनी बहन लालमती के यहां चली गयी। सात अप्रैल 2021 को गुड़िया का पीएचसी मनियर पर प्रसव तथा उसने बेटे को जन्म दिया। इसकी जानकारी होने के बाद  उसका पति संतोष पहुंचा तथा पत्नी को मारपीट कर बच्चा लेकर चला गया।

सीओ सदर जगवीर सिंह चौहान ने बताया कि संतोष ने अपने बच्चे को फेफना थाना क्षेत्र के रौसिंगपुर निवासी जीवेन्द्र कुमार यादव को 1.47 लाख रुपये में बेच दिया। कुछ दिनों तक तो बेटे से बिछड़ के गुड़िया चुप रही, लेकिन उसे पति का यह काम गंवारा नहीं लगा लिहाजा उसने मामले से पुलिस को अवगत कराया।

एसओ फेफना संजय त्रिपाठी ने बताया कि इस प्रकरण की जानकारी होते ही कपुरी गांव में स्थित एक मकान पर छापेमारी कर शनिवार को नवजात उसके पिता संतोष, खरीदार जीवेन्द्र, बांसडीह कोतवाली क्षेत्र के हुसेनाबाद निवासी कथित डाक्टर लालबहादुर सिंह तथा बांसडीह कोतवाली क्षेत्र के पिठाईच निवासी दलाल नोनिया देवी पत्नी गोरख लाल को गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस के अनुसार आरोपियों के पास से एक लाख 23 हजार 900 रुपये बरामद किया गया है। थानाध्यक्ष ने बताया कि गुड़िया की तहरीर पर सभी के खिलाफ 363, 368 व 370 आईपीसी के तहत केस दर्ज कर जेल भेज दिया गया। कार्रवाई करने वाली टीम में एसआई राम गोपाल त्यागी आदि शामिल थे।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad