Featured

Type Here to Get Search Results !

वाराणसी में प्रवर्तन दल रोडवेज बसों में डब्लूटी के साथ देखेंगे शारीरिक दूरी और मास्क

0

वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने पर उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम भी अलर्ट हो गया है। निगम के प्रबंध निदेशक ने सभी क्षेत्रीय कार्यालयों को पत्र लिखकर बसों में यात्रियों को शारीरिक दूरी का पालन और मास्क लगाना अनिवार्य कर दिया है। बिना मास्क के यात्रियों को बसों में बैठने नहीं दिया जाएगा। इसकी जवाबदेही बस के चालक और परिचालक की होगी। प्रवर्तन दल बसों में डब्लूटी के अलावा यात्रियों के शारीरिक दूरी और मास्क का भी चेकिंग करेंगे। यदि कोई यात्री कोविड-19 का उल्लंघन करते हुए मिलता है तो उनके खिलाफ कार्रवाई होगी। साथ ही चालक और परिचालक को कारण बताओ नोटिस जारी किया जाएगा।

कोरोना संक्रमण तेजी से फैलने को लेकर सभी विभागों को अलर्ट कर दिया गया है। सभी विभाग अपने-अपने हिसाब से अपनी जिम्मेदारी निभा रहे हैं। यात्रियों की सुविधा के लिए परिवहन निगम की बसें चलाई जा रही हैं लेकिन कोविड-19 का पालन नहीं हो रहा है जिससे संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा है। तत्कालीन प्रबंध निदेशक डा. राजशेखर ने रोडवेज बस स्टैंड को सील करने के साथ आने-जाने के लिए अलग-अलग प्रवेश गेट बनाने का निर्देश दिया है। बस स्टैंड पर थर्मल स्कैनिंग करने के साथ सैनिटाइजेशन का आदेश है लेकिन बसों के अंदर यात्री शारीरिक दूरी का पालन नहीं कर रहे हैं और न ही मास्क लगा रहे हैं। मामला संज्ञान में आने पर परिवहन निगम के प्रबंध निदेशक धीरज साहू ने बसों में यात्रियों का टिकट चेक करने वाले प्रवर्तन दल को निर्देश दिया है कि बसों में बैठे यात्री शारीरिक दूरी का पालन और मुंह पर मास्क लगाए हैं या नहीं, इसकी भी जांच करें। यदि कोई यात्री कोविड-19 का पालन नहीं करता है तो उसके खिलाफ सख्ती से कार्रवाई करें।

कोविड नियमों का पालन कराने के लिए बसों में चेकिंग कराई जा रही है

कोविड नियमों का पालन कराने के लिए बसों में चेकिंग कराई जा रही है। डब्लूटी के अलावा प्रवर्तन दल बसों में शारीरिक दूरी का पालन कराएंगे। बिना मास्क यात्रियों के प्रवेश पर पूरी तरह से रोक है। कोविड-19 का पालन नहीं होने पर चालक और परिचालक की जवाबदेही होगी।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad