Featured

Type Here to Get Search Results !

वाराणसी में पर्यटन की रफ्तार पर फिर कोरोना महामारी ने लगाया ब्रेक, 90 फीसदी बुकिंग हो चुकी रद

0

काशी में एक बार फिर कोरोना महामारी बड़े तेजी के साथ अपना पांव पसार रहा है। इसके प्रभाव से बचने के लिए जहां जिला प्रशासन सभी को कोविड गाइडलाइंस के अनुपलान की सलाह दे रहा है तो वही संक्रमण के बढ़ते प्रसार से पर्यटन व्यापारियों को झटका लगने लगा है। देखा जाए तो पर्यटन उद्योग पर कोरोना ने एक बार फिऱ ब्रेक लगा दिया है। इस कारण से एक बार फिर टूरिजम उद्योग पर संकट के बादल गहराने लगे हैं। टूरिजम उद्योग से जुड़े जानकारों का कहना है कि कोरोना का दूसरा लहर पर्यटन उद्योग को शिकार बना रहा है। संक्रमण बढ़ने के कारण होटलों में प्री बुकिंग रद होने लगे है।

हो सकता है लाखों का घाटा

पिछले साल कोरोना संक्रमण के कारण हुए लाकडाउन और उसके कई महीनों बाद बड़ी मुश्किल से कारोबार में सुधार आ रहा था। अभी सीजन शुरु ही होने वाला था कि कोरोना के दूसरे लहर ने बैक फुट पर लाकर खड़ा कर दिया है। होटल व्यवसाइयों की माने तो होली के बाद से कोरोना के केस के बढऩे के साथ ही होटलों में हुई प्री बुकिंग्स रद होना शुरू हो चुका हैं। अगर ऐसा ही चलता रहा तो कारोबारियों को इस बार भी लाखों का घाटा सहना पड़ेगा।

90 फीसदी प्री बुकिंग हुए रद

परेड कोठी स्थित होटल प्लाजा इन के एचआर मैनेजर प्रभाकर पाठक के मुताबिक 2020 के कोरोना काल के बाद स्थितियों कुछ सुधरती हुई नजर आ रही थी, लेकिन दोबारा से कोरोना की रफ्तार ने चिंता बढ़ा दी है। कोरोना संक्रमितों के बढऩे के साथ हमारी जो प्री बुकिंग थी वह अब 90 फीसदी तक रद हो गई है। ऐसे में जो बाहरी लोग थे वह भी पूछताछ कर रहे हैं। कुछ पुराने ग्राहक हैं वे भी फोन कर शहर का हाल पूछ रहे है। कोरोना स्थिति जानने के बाद उनके यहां आने का इरादा खत्म हो जा रहा है।

मेहमान घटे तो कमरे भी घटाने पड़े

होटल व्यवसाय से जुड़े लोगों की मानें तो कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों ने होटल व्यवसायियों की चिंता बढ़ा दी है। पहले जहां बीच में रूम की बुकिंग शुरू हो गई थी लेकिन अब वह बुकिंग रद हो रही है। शादियों की जहां बुकिंग हुई थी वहां लोगों ने अपने गेस्ट की संख्या अब घटा दी है। ऐसे में व्यवसाय प्रभावित हो रहा है ।इससे जो लोग यहां काम कर रहे हैं अब उन्हें वेतन देने में मुश्किल का सामना करना पड़ सकता है। इस तरह से कहीं ना कहीं लग रहा है कि होटल व्यवसायियों के लिए एक बड़ी मुश्किल खड़ी होगी।

Post a comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad