Featured

Type Here to Get Search Results !

शौचालय निर्माण में, 19 लाख के गबन मामले में निवर्तमान प्रधान सहित दो ग्राम सेक्रेटरी पर केस

0

उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जिले में शौचालय निर्माण में गबन का मामला सामने आया है। डाडीकला गांव के निवर्तमान प्रधान व दो सचिवों (वर्तमान और पूर्व) पर शौचालय और ग्राम निधि प्रथम के तहत आवंटित 18 लाख 88 हजार 377 रुपये गबन के आरोप में शुक्रवार को मुकदमा पंजीकृत किया गया है।

मरदह थाने में मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही हैं। बिरनो पुलिस ने यह कार्रवाई एडीओ पंचायत मरदह रमेशचंद्र यादव की तहरीर के बिनाह पर मुकदमा दर्ज किया है। डाडीकला गांव रहने वाले जयराम ने जिलाधिकारी एमपी सिंह को पत्र के जरिये ग्राम निधि के धनराशि के गबन किये जाने की शिकायत की थी।

274 शौचालयों के लिए आवंटित हुई थी राशि

डीएम ने इस मामले को संज्ञान में लेते हुए निर्माण कार्यो के भौतिक सत्यापन करवाने का आदेश दिया था,जांच में पाया गया की कुल 274 शौचालयों के लिए धनराशि आवंटित की गई थी। जिसमें से केवल 174 शौचालय ही निर्मित मिले, जबकि 70 शौचालय की धनराशि बिना निर्माण के ही निकाल ली गयी थी। वहीं 174 शौचालय में भी 64 शौचालयों का निर्माण कार्य अधूरा ही पाया गया।

सचिव और प्रधान पर इतने लाख के गबन का आरोप

निवर्तमान ग्राम प्रधान और तत्कालीन सचिव प्रभाकर पांडेय ने कुल शौचालय निर्माण में 12 लाख 24 हजार का गबन किया जाना स्थापित हुआ। वहीं ह्यूमपाइप में दो लाख 21 हजार और नाली निर्माण में दो लाख 68 हजार 635 रुपये का गबन निवर्तमान ग्राम प्रधान और सचिव छविनाथ यादव की मिली भगत से किया जाना स्थापित हुआ।

18 लाख 88 हजार के गबन का मामला

इनके खिलाफ कुल 18 लाख 88 हजार 377 रुपये गबन का मामला सामने आया है। एडीओ पंचायत रमेशचंद्र यादव ने बताया कि जिला पंचायत राज अधिकारी के आदेश पर मुकदमा दर्ज कराया गया है।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad