Featured

Type Here to Get Search Results !

गहमर कोतवाली क्षेत्र, झोपड़ी में आग लगने से गृहस्थी जलकर राख

0

दिहाड़ी मजदूरी कर जीवन-यापन कर रहे श्रमिक का घास-फूस से बना आशियाना चूल्हे की चिगारी से जलकर राख हो गया। ग्रामीणों ने स्वयं के प्रयास से आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक पूरी गृहस्थी जल चुकी थी।

गहमर कोतवाली क्षेत्र में मगरखाई के मजरे मठिया निवासी सरली पत्नी अयोध्या अपने परिवार के साथ झोपड़ी डालकर दशकों से रह रही थी। सोमवार रात खाना खाने के बाद सभी सो गए। इस दौरान अज्ञात कारणों से झोपड़ी में आग लग गई। सरली की नींद खुली तो उसने देखा झोपड़ी जल रही है। उसके बाद उसने स्वजन को जगाया तो सभी ने भागकर जान बचाई। घटनास्थल पर पहुंचे लेखपाल और ब्लाक कर्मी भी खानापूर्ति कर वापस लौट गए।

Post a Comment

0 Comments

Top Post Ad

Below Post Ad